Homeराज्यहरियाणातोशाम : पेयजल व्यवस्था सुधारने के लिए खर्च होंगे लगभग 30 करोड़...

तोशाम : पेयजल व्यवस्था सुधारने के लिए खर्च होंगे लगभग 30 करोड़ रुपए

सुमन, तोशाम :
विभिन्न गांवों गारनपुरा कलां व खुर्द, पिंजोखरा, खानक व किरावड़ में पेयजल व्यवस्था को सुधारने के लिए लगभग 30 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इन गांवों में जलापूर्ति के लिए सिवानी कैनाल से पाइप लाइन बिछाई जाएगी। जन स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए एस्टीमेट भेजा हुआ है। उम्मीद है कि जल्द ही इन गांवों की पेयजल समस्या दुरूस्त होगी। गांव खानक, पिंजोखरा, गारनपुरा, किरावड़ के ग्रामीण काफी समय से पेयजल संकट से जूझ रहे हैं। गर्मी के मौसम में ग्रामीणों को हलक सुखाने के लिए पैसा खर्च करना पड़ता है। जमीनी पानी खारा होने के कारण और पेयजल सप्लाई न मिलने के कारण ग्रामीणों को टेंकरों से पानी मंगवाना पड़ता है। लोगों को खरीदकर पानी पीना पड़ रहा है। इससे लोगों की जेब पर  बोझ बढ़ जाता है। अधिकतर लोग खेती और पशुपालन पर निर्भर हैं। पानी की किल्लत के चलते पशुओं के लिए भी पानी की व्यवस्था नहीं हो पा रही।

अधिकारियों के यहां चक्कर लगाने से भी कोई लाभ नहीं हुआ। अब इन गांवों में पानी की समस्या से निजात मिलने की उम्मीद जगी है। भाजपा युवा मोर्चा महामंत्री राहुल किरावड़ ने बताया कि पानी की समस्या के समाधान के लिए पांचों गांव के लोग पूर्व विधायक शशिरंजन परमार से मिले थे। उन्होंने आश्वाशन दिया था कि जल्द ही जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से मिलकर समस्या का समाधान करवाऊंगा। भाजपा नेता ने दावा किया कि पिछले दिनों पूर्व विधायक परमार जल मंत्री गजेंद्र शेखावत से मिले थे  और उन्होंने इस काम के लिए हरी झंडी दे दी है। इस सम्बन्ध में जन स्वास्थ्य विभाग के उपमंडल अधिकारी विक्रम पुनिया से सम्पर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि खानक, पिंजोखरा, गारनपुरा कलां व खुर्द और किरावड़ के लिए करीबन 30 करोड़ का एस्टीमेट भेजा गया है। उम्मीद है जल्दी ही पास हो जाएगा। उन्होंने बताया कि सिवानी कैनाल से पाइप लाइन बिछाई जाएगी और इन गांवों के जलघरों में पानी पहुंचाया जाएगा।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular