Homeहरियाणामहेंद्रगढ़युवती को गोली मारने वाले युवक को फरार होने में मदद करने...

युवती को गोली मारने वाले युवक को फरार होने में मदद करने वाला गिरफ्तार Arrested For Helping Youth Who Shot Girl Escape

नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़ : 
Arrested For Helping Youth Who Shot Girl Escape : जिला महेंद्रगढ़ शहर क्षेत्र में मंगलवार को एक बदमाश युवक ने युवती को गोली मार दी थी। स्पेशल स्टाफ महेंद्रगढ़ की पुलिस टीम ने इस मामले में एक युवक को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने वारदात को अंजाम देने वाले आरोपित अरविंद उर्फ टाइसन के ब्रदर इन लॉ धर्मसिंह वासी पटौदी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मामले की जांच करते हुए पता लगाया कि धर्मसिंह ने आरोपित अरविंद की भागने में मदद की थी। आरोपित धर्मसिंह को आज न्यायलय में पेश किया गया।

Read Also : अंबाला में 3 हैंड ग्रेनेड बरामद 3 Hand Grenades Found In Ambala

Arrested For Helping Youth Who Shot Girl Escape : पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि वारदात में घायल पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह वर्ष 2017 से 2020 तक अपनी बहन के घर नजफगढ़ क्षेत्र में रहती थी। उसी वक्त उसकी दोस्ती अरविंद उर्फ टाइसन से हो गई। पीड़िता के परिजनों को इसके बारे में पता चलने पर उसको वापस राजस्थान बुला लिया।

दोस्ती तोड़ने का अंजाम भुगतने की धमकी दी

पीड़िता ने बताया कि पिछले कुछ दिन से अरविंद उसे लगातार फोन किए जा रहा था। पीड़िता ने अपने जीजा के फोन से उसके पास कॉल कर कहा कि उसका पीछा छोड़ दे। बातचीत के दौरान अरविंद ने दोस्ती तोड़ने का अंजाम भुगतने की धमकी दी। कुछ दिन से वह अपनी बहन के ससुराल महेंद्रगढ़ के गांव में रहने आई हुई थी। मंगलवार को अपने जीजा के साथ बाइक पर बैठकर महेंद्रगढ़ से गांव जा रही थी। तभी माजरा चुंगी स्थित हनुमान मंदिर के पास पहुंचे तो पीछे से बाइक पर सवार होकर आए अरविंद उर्फ टाइसन ने उसको निक नेम से पुकारा, आवाज सुनकर पीड़िता ने पीछे मुड़कर देखा तो अरविंद ने गोली चला दी। गोली युवती की कमर में लगी। इसके बाद अरविंद फरार हो गया।

Arrested For Helping Youth Who Shot Girl Escape : युवक द्वारा गोली मारकर युवती को घायल करने के मामले को संज्ञान में लेते हुए पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन ने जिला पुलिस को निर्देश दिए कि गोली चलाने वाले युवक को जल्द से जल्द पकड़ा जाए और सख्त कार्रवाई की जाए। जिसके तहत स्पेशल स्टाफ की टीम द्वारा छापामारी की गई। इस दौरान पुलिस ने आरोपित अरविंद को भगाने वाले को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने पता लगाया कि धर्मसिंह अरविंद का साला है, करीब 2 साल पहले अरविंद की शादी हुई थी। पुलिस ने पता लगाया कि धर्मसिंह ने अरविंद को पैसे देकर भागने में मदद की है। पुलिस ने आरोपित धर्मसिंह को गिरफ्तार कर पूछताछ की और आज न्यायालय में पेश किया गया।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular