Homeहरियाणारोहतकआंगनबाड़ी हड़ताल के तीन महीने पूरे, निकाला जुलूस Anganwadi Strike

आंगनबाड़ी हड़ताल के तीन महीने पूरे, निकाला जुलूस Anganwadi Strike

संजीव कौशिक, रोहतक:
Anganwadi Strike: आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका तालमेल कमेटी के आह्वान पर प्रदेशव्यापी हड़ताल को आज तीन महीने पूरे हो गए। आज बहनों ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया। उन्होंने मानसरोवर पार्क से महावीर चौक तक जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। आज आंगनबाड़ी कार्यकतार्ओं और सहायिकाओं ने मानसरोवर पार्क में सभा की।

महिलाओं ने हमेशा लड़कर पाए अधिकार Anganwadi Strike

कामरेड सत्यवान ने कहा कि महिलाओं को हमेशा अपने अधिकार लड़कर हासिल करने पड़े हैं। जिसके लिए उनको बलिदान भी देना पड़ा है। महिला दिवस का दिन अपने अधिकारों को हासिल करने के संकल्प को दोहराने का दिन है। जिसे आज आप सब आंगनबाड़ी बहनों ने दोहराया है। ऐतिहासिक रूप से हम जानते हैं कि अधिकार हमेशा लड़कर ही मिले हैं।

Anganwadi Strike
Anganwadi Strike

सभी आंगनबाड़ी बहनें: पुष्पा Anganwadi Strike

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका यूनियन हरियाणा संबंधित एआईयूटीयूसी की प्रदेश महासचिव पुष्पा दलाल ने कहा कि हम सभी आंगनबाड़ी बहनें एकजुट हैं। हम सरकार की हर कार्रवाई का जवाब देंगे। हर कीमत पर अपनी सारी मांगों को पूरा कराके ही मानेंगी। प्रशासन के हर तरह के दमन से हमारा आंदोलन दबने वाला नहीं है। आखरी दम तक हम लड़ेंगी और जीतेंगी। हरियाणा सरकार के पास हमारी इन मांगों को नकारने का कोई तर्क नहीं है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाएं कोई नई मांग नहीं कर रही है, बल्कि प्रधानमंत्री 2018 की घोषणा को लागू करने की मांग कर रही हैं। इससे इन्कार कर हरियाणा सरकार अपने ही प्रधानमंत्री की अवमानना कर रही है।

Anganwadi Strike
Anganwadi Strike

जुलूस निकालकर दोहराई मांग Anganwadi Strike

आंगनबाड़ीकर्मियों ने आज फिर अपनी मांग दोहराई। उन्होंने मांग की कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं को सरकारी कर्मचारी का दर्जा दिया जाए जब तक कर्मचारी नहीं बनाया जाता तब तक न्यूनतम वेतन कार्यकर्ता को 24000 व सहायिका को 16000 रू दिया जाए। 2018 में की गई घोषणाओं को लागू करते हुए महंगाई भते की तमाम किस्त मानदेय में जोड़कर दी जाए। महंगाई भते का बकाया ऐरियर भी तुरंत दिया जाए। इस मौके पर महम ब्लॉक सचिव दर्शना, रोशनी पाकस्मा, रामभतेरी, सीमा, संतोष, कविता, कमला, सुनीता, सुमित्रा ने भी अपने विचार रखे।

Anganwadi Strike
Anganwadi Strike
इन लोगों ने किया संबोधित Anganwadi Strike

सभा को एआईयूटीयूसी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कामरेड सत्यवान, आल इंडिया किसान खेत मजदूर संगठन के प्रदेश सचिव जयकरण मांडौठी, एआईडीएसओ के प्रदेश सचिव उमेश कुमार, भवन निर्माण कारीगर मजदूर यूनियन के जिला प्रधान केसू काहनौर, पूर्व बैंक अधिकारी नरेंद्र सिंह, आंगनबाड़ी नेत्री पुष्पा दलाल, सुनीता वर्मा, रोशनी चौधरी, कौशल्या चहल ने संबोधित किया।

Also Read : Budget Is Anti Women-Laborers-And Farmers महिला, मजदूर और किसान विरोधी है बजट: प्रो. राय

Also Read : Woman Is Now Empowered अब सशक्त हो चुकी है नारी : हिमांशु सिंह

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular