Homeराज्यहरियाणाशहजादपुर : गांव बड़ी बस्सी में एनीमिया जांच कैम्प आयोजित

शहजादपुर : गांव बड़ी बस्सी में एनीमिया जांच कैम्प आयोजित

नवीन मित्तल, शहजादपुर :
एनीमिया बारे जांच कैम्प इन दिनों खण्ड़ शहजादपुर के  गांवों में आयोजित किये जा रहे है। कैम्प में बच्चियों, किशोरियों तथा महिलाओं की लंबाई, वजन की जांच की जा रही है। जिन बच्चियों, किशोरियों तथा महिलाओं का एच.बी. तथा वजन कम है उन्हें आयरन और कैल्शियम की गोलियां भी दी जाती है। ऐसा ही कैम्प गांव बड़ी बस्सी में लगाया गया। ग्रामीण क्षेत्रों में लगाये जा रहे इन एनीमिया जांच कैम्पों के बारे में ग्रामीण महिलाओं पिंकी, मोनिका, मीनाक्षी, कविता, नीरू और आशु आदि ने कहा कि कैम्प में आकर उन्हें स्वास्थ्य सम्बंधी जानकारी मिली है। महिलाओं का कहना था कि इस प्रकार के स्वास्थ्य जांच कैम्प समय-समय पर लगने चाहिए। कैम्प में सीडीपीओं मीक्षा रंगा, सुपरवाईजर अरविन्द्र कौर, सुपरवाईजर मनप्रीत कौर, डॉ. राजेश त्यागी, आंगनवाड़ी वर्कर भावना सैनी और अनिता सैनी द्वारा जानकारी दी गई। स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा बच्चियों, किशोरियों तथा महिलाओं की लम्बाई, वजन तथा एच.बी. चैक किया गया। कैम्प में जानकारी दी गई कि नियमित रूप से फलों का सेवन करने से भी खून की कमी दूर होती है। जैसे- चुकंदर का सेवन करने से खून की कमी दूर होती है।
इसमें पर्याप्त मात्रा में आयरन होता है। जो हिमोग्लोबीन के स्तर को बढाता है। चुकंदर को सलाद के रूप में या गाजर के रस में नींबू मिलाकर पी सकते है।
ब्रोकली और पालक में प्रचुर मात्रा में आयरन, विटामिन-बी12 और फोलेट होता है, जो खून की कमी को पूरा करता है। पालक को सूप या फिर सब्जी के तौर पर दोपहर के भोजन के समय में इसका सेवन किया जा सकता है।
सेब में आयरन के साथ-साथ विटामिन-सी भी पाया जाता है, जिससे भी खून की कमी दूर होती है। काले चने भी लौह तत्व का प्रमुख स्रोत है, जो खून बढाने में मदद करते हुए। सफेद बीन्स खून की कमी को दूर करता है। केला भी एनीमिया के लिए फायेदमंद होता है। इसमें काफी अच्छी मात्रा में आयरन पाया जाता है।हमारे शरीर में हिमोग्लोबिन एक ऐसा तत्व है जो शरीर में खून की मात्रा बताता है। चिकित्सकों के अनुसार पुरुषों में इसकी मात्रा 12 से 16 प्रतिशत तथा महिलाओं में 11 से 14 के बीच होना चाहिए। एनीमिया यानि शरीर में खून की कमी होने से कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याएं खड़ी हो जाती हैं। अगर समय रहते इस ओर ध्यान दिया जाए तो उन समस्याओं से बचा जा सकता हैं।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular