Homeराज्यहरियाणायमुनानगर : कम पानी में अधिक उत्पादन के लिए अपनाएं सूक्ष्म सिंचाई...

यमुनानगर : कम पानी में अधिक उत्पादन के लिए अपनाएं सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली : डीसी

प्रभजीत सिंह (लक्की), यमुनानगर :
उपायुक्त गिरीश अरोरा ने जिला के किसानों से हरियाणा सूक्षम सिंचाई योजना का लाभ उठाने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि इस योजना का मकसद कम से कम पानी में अधिक से अधिक उत्पादन करना है। उपायुक्त गिरीश अरोरा ने कहा कि हरियाणा सरकार ने किसानों को कृषि से संबन्धित सिंचाई के जो नए आधुनिक तकनीकी साधन है, उनकी प्राप्ति करवाने के लिय इस सूक्ष्म सिंचाई योजना को शुरू किया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने कृषि से फसल की पैदावार को दोगुना करने के लिय इस प्रकार की योजनाओं को प्रदेश में लागू किया है। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म सिंचाई के प्रति किसानों को जागरूक करने के लिए पहले ही विशेष शिविरों का आयोजन करने के निर्देश दिए जा चुके हैं। टपका सिंचाई का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस प्रणाली से 70 प्रतिशत जल की बचत होती है और इस प्रणाली से पौधों को जरूरत के हिसाब से पानी मिलता है।
उपायुक्त ने कहा कि इस विधि में रासायनिक उर्वरकों को घोल के रूप में जल के साथ फसल को प्रदान किया जाता है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत ड्रिप स्प्रींकल कल पर 85 प्रतिशत सब्सिडी का प्रावधान किया गया है। इसके अतिरिक्त योजना के तहत पुराने कुओं का पुनर्जन्म, छत के पानी का एकत्रीकरण, टिब्बे पर सूक्ष्म सिंचाई व्यवस्था तथा खेती योग्य भूमि को शत-प्रतिशत पानी के प्रबंधन की व्यवस्था की जाएगी। योजना के तहत असंचित क्षेत्र के लिए सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments