Homeहरियाणापानीपत17 वर्षीय चिराग उर्फ गौरव की गोली मारकर हत्या के मामले में...

17 वर्षीय चिराग उर्फ गौरव की गोली मारकर हत्या के मामले में फरार आरोपी दलजीत उर्फ जित्ता गिरफ्तार 

आज समाज डिजिटल, पानीपत:
पानीपत। सीआईए-टू प्रभारी इंस्पेक्टर वीरेंद्र ने बताया शुगर मील के सामने फाइनेंस के ऑफिस में 24 मार्च की देर सायं 17 वर्षीय चिराग उर्फ गौरव पुत्र नवीन निवासी आजाद नगर को पिस्तौल से गोली मारकर हत्या करने के मामले में फरार चल रहे आरोपी दलजीत उर्फ जित्ता निवासी बूढ़ा खेड़ा को सोनीपत एसटीएफ पुलिस की टीम ने वीरवार को गुप्त सूचना पर गिरफ्तार कर सीआईए-टू पानीपत पुलिस को सौंपा। पानीपत पुलिस आरोपी की धरपकड़ के लिए लगातार उसके संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही थी। आरोपी पुलिस पकड़ से बचने के लिए ठीकाने बदल-बदल कर छुप कर रह रहा था।

आरोपी दलजीत उर्फ जित्ता ने गौरव की हत्या करने बारे स्वीकारा

इंस्पेक्टर वीरेंद्र ने बताया प्रारंम्भिक पुलिस पुछताछ में आरोपी दलजीत उर्फ जित्ता ने पिस्तौल से गोली मारकर चिराग उर्फ गौरव की हत्या करने बारे स्वीकारा। पुलिस पुछताछ में आरोपी से खुलासा हुआ कि उसकी पानीपत में संजय कालोनी निवासी सोमबीर व राजनगर निवासी नीरज के साथ काफी समय से दोस्ती है। 24 मार्च की देर शाम शुगर मील के सामने नीरज के ऑफिस में बैठे थे। उनके अतिरिक्त तीन/चार लड़के और बैठे हुए थे। उसने चिराग उर्फ गौरव को पैसे देकर खाने पीने का सामान मंगवाया था।

गोली मार कर दी मौके से हो गया था फरार

चिराग काफी देर में सामान लेकर आया तो इस बात को लेकर उसकी चिराग से कहासूनी हो गई थी। कहासूनी के दौरान उसने पिस्तौल निकालकर चिराग को गोली मार हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया था। गहनता से पुछताछ करने व वारदात में प्रयोग किया पिस्तौल बरामद करने के लिए गिरफ्तार आरोपी दलजीत उर्फ जीता को शुक्रवार को न्यायालय में पेश कर 7 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। आरोपी दलजीत उर्फ जित्ता का पहले भी आपराधिक रिकार्ड रहा है, आरोपी के खिलाफ विभिन्न थाना में आपराधिक वारदातों के मुकदमें दर्ज है।

मृतक के पिता शिकायत पर हत्या की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज

मृतक चिराग के पिता नवीन ने थाना माडल टाउन पुलिस को शिकायत दी शिकायत में बताया था कि उसके 17 वर्षीय लड़के चिराग उर्फ गौरव को 24 मार्च की शाम दोस्त सुमित पुत्र शीशपाल निवासी आजाद नगर अपने साथ तेजबीर कुंडू के लड़के प्रदीप की शादी में शामिल होने की बात कहकर लेकर गया था। शादी में प्रदीप का दोस्त जित्ता निवासी बूढ़ा खेड़ा जिला जीन्द भी आया हुआ था। जित्ता शुगर मील के सामने नीरज पाठक के ऑफिस में बैठकर प्रदीप के अन्य दोस्त सोमबीर व सुरेंद्र के साथ शराब पी रहा था। करीब साढे 10 बजे सुमित उसके लड़के चिराग को नीरज पाठक के दफ्तर में लेकर पहुंचा।
वारदात में सुमित का भी पूरा हाथ है
वहां पर अंकित निवासी डाहर व प्रवीन और दीपक भी थे। करीब 10:50 पर चिराग का उसके पास फोन आया तो उसने घर आने के लिए बोला, चिराग ने कहा कि वह थोड़ी देर में आ रहा है। कुछ देर बाद उन्हें सूचना मिली की चिराग की जित्ता निवासी बूढ़ा खेड़ा के साथ किसी बात को लेकर कहासूनी हो गई थी। जित्ता ने पिस्तौल से गोली मारकर चिराग की हत्या कर दी और आरोपी मौके से फरार हो गया। नवीन ने शिकायत में बताया था की इस वारदात में सुमित का भी पूरा हाथ है। नवीन की शिकायत पर नामजद आरोपियों के खिलाफ थाना माडल टाउन में आईपीसी की धारा 302,34 व आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने गहनता से अनुसंधान करते हुए आरोपी की धरपकड़ के प्रयास शुरू कर दिए थे।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular