Homeहरियाणापानीपत24 अप्रैल को श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाशोत्सव पर...

24 अप्रैल को श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाशोत्सव पर हरियाणा जी आया नूं कहने को तैयार

आज समाज डिजिटल, पानीपत:

पानीपत़(A grand pandal built on 25 acres in Panipat)  हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हिन्द की चादर सिखों के नौवें गुरु श्री तेग बहादुर जी के 24 अप्रैल को पानीपत में मनाए जा रहे 400वें प्रकाशोत्सव पर आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम की तैयारियां लगभग पूरी कर ली हैं तथा इस अवसर पर समागम में आने वाली संगत को हरियाणा जी आया नूं  कहने को तैयार है ।

 

24 अप्रैल को श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाशोत्सव पर हरियाणा जी आया नूं कहने को तैयार
24 अप्रैल को श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाशोत्सव पर हरियाणा जी आया नूं कहने को तैयार

भव्य पांडाल लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र बना

पानीपत के सैक्टर 13-17 में 25 एकड़ बनाया गया भव्य पांडाल पिछले तीन दिनों से पानीपत के लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है तो दूसरी ओर अपने सगे संबधियों को भी इस कार्यक्रम की जानकारी दे रहे हैं । इस बड़े आयोजन के लिए 60 एकड़ में पार्किंग बनाई गई है। आयोजन समिति के संयोजक व सांसद संजय भाटिया ने कार्यक्रम के आयोजन में सहयोग देने के लिए जिला प्रशासन के साथ-साथ सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डॉ. अमित अग्रवाल व अन्य अधिकारियों का आभार व्यक्त किया है जो पिछले एक महीने से की जा रही तैयारियों में अपना भरपूर सहयोग दे रहे हैं ।
24 अप्रैल को श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाशोत्सव पर हरियाणा जी आया नूं कहने को तैयार
24 अप्रैल को श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाशोत्सव पर हरियाणा जी आया नूं कहने को तैयार

भव्य प्रवेश द्वार, प्रदर्शनी भी आकर्षण का केन्द्र

सांसद भाटिया ने बताया कि श्री गुरु साहिब के 400वें प्रकाशोत्सव के आयोजन का गवाह बनना हम सब के लिए गर्व की बात है। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में आयोजित किए गए पानीपत के इस भव्य कार्यक्रम लोग दशकों तक नहीं भूल पाएंगे । इस समारोह के आयोजन के सीधे प्रसारण के लिए सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग ने विशेष व्यवस्था की है । इसी कड़ी में एक हाईटेक मीडिया सैन्टर पांडाल के साथ मनाया गया है जिसमें डबल लीज इन्ट्रनेट लाईनों की सुविधा उपलब्ध है।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular