Homeहरियाणारोहतक11 Cows Died सांपला के खरखौदा रोड ओवर ब्रिज पर तीन दिनों...

11 Cows Died सांपला के खरखौदा रोड ओवर ब्रिज पर तीन दिनों में ट्रेन की चपेट में आने से 11 गोवंशों की मौत

11 Cows Died

दो गोशालाएं होने के बाद भी बेसहारा घुम रहे गोवंश
प्रवीन दतौड़, सांपला
सांपला का खरखौदा रोड स्थित ओवर ब्रिज गोवंशों की कब्रगाह बनता जा रहा है। बीते तीन दिनों में 11 गोवंश रेल की चपेट में आकर मौत का शिकार हो चूके हैं। जबकि एक गोवंश जिंदगी और मौत के बीच लड़ाई लड़ रहा है। कस्बे में दो नंदीशालाए संचालित हो रही है। हालांकि कस्बे के 15 किलोमीटर दायरे में भी कई नंदीशालाएं संचालित हो रही है।

जिनमें मांडौठी, डीघल की बड़ी गोशालाओं के अलाव गांव भैसरूकलां, अटायल, हसनगढ़ में नंदीशाला बनी हुई है। इसके बावजूद भी बेसहारा गोवंश कस्बे में घुमता रहता है। कमोबेश यहीं हाल ग्रामीण एरिया का भी है। लगातार हो रहे गोवंशों के साथ हादसों से लोगों का आक्रोश नपा के प्रति बढ़ता जा रहा है।

11 Cows Died

नगरपालिका ने पूरे मामले पर अभी तक चूपी साध रखी है। जबकि कस्बे की सरकार द्वारा 2018-2019 में कैटल फ्री होने का दावा कर खूब वाह वाही लूटी थी। प्रदेश सरकार द्वारा भी शहर की सरकार को सम्मानित किया गया था। लेकिन कुछ समय बाद ही कस्बे की सरकार के दावे फेल होने लग गये थे। बाद में बेरी रोड़ पर नगरपालिका द्वारा बनाई गई नंदीशाला के गोवंशों को अन्य गोशालाओं में शिफ्ट कर दिया गया ।

नंदीशाला के नाम नगरपालिका कर रही खूब कमाई

कस्बे को कैटल फ्री करने के नाम पर पहले नगरपालिका ने बेरी रोड पर 18 लाख रूपए की लागत से नंदीशाला बनवाई। लेकिन कुछ समय बाद चारे की कमी का हवाला देकर गोवंश को दूसरी नंदीशालाओं में भेज दिया । साल 2020-2021 में 87 लाख रूपए की लागत से नंदीशाला का आधूनिकरण किया गया । इस नई नंदीशाला को जनवरी 2021 को मौखिक तौर पर गउ मां ट्रस्ट को दिया गया । करीब एक साल दो माह गुजर जाने के बाद भी नगरपालिका ने ट्रस्ट को आधारिक रूप से नहीं दिया है।

एक बार फिर हुई गोशाला में चारे की कमी 11 Cows Died

श्री राधा कृष्ण गौशाला के सदस्य दीपक ने बताया कि वर्तमान समय में करीब 280 गोवंश है। इनमें ज्यादातर गोवंश सांड है। जिनके लिए चारे की ज्यादा व्यवस्था करनी पड़ती है। गौशाला में करीब सात लाख रूपए का चारा एकत्रित किया गया था। जो अब समाप्त हो गया है। कुछ पार्षद व दानवीरों की सहायता से गौशाला का संचालन किया जा रहा है। सांपला नगरपालिका ने अभी तक गौवंश एकत्रित करने के लिए बाड़ा ही दे रखा है। चारे की लिए कोई सहायता नहीं मिली है।

11 Cows Died

Also Read :  बवानी खेड़ा के लुहारी जाटू में व्यक्ति ने खुद को गोली मार की आत्महत्या

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular