Homeहरियाणापानीपतरंगदारी वसूलने व रंगदारी ना देने पर आढ़ती पर हमला करवाने के...

रंगदारी वसूलने व रंगदारी ना देने पर आढ़ती पर हमला करवाने के आरोपी रमेश मलिक पर पुलिस ने रखा 10 हजार रूपए का इनाम

आज समाज डिजिटल,पानीपत:
पानीपत (10 thousand rupees reward on the accused of extortion) नई सब्जी मंडी में रेहड़ी वालों से रंगदारी वसूलने व रंगदारी ना देने पर आढ़ती पर हमला करवाने के मामले में आरोपी रमेश मलिक 5 माह से फरार है। गांव रिसालू निवासी आरोपी रमेश मलिक पर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक क्राइम ओपी सिंह ने 10 हजार रूपए का इनाम घोषित किया है। नई सब्जी मंडी में रेहड़ी वालों से रंगदारी वसूलने व रंगदारी ना देने पर आढ़ती पर हमला करवाने की वारदात में मुख्य आरोपी है। आरोपी के खिलाफ उक्त वारदात के अतिरिक्त पहले भी लड़ाई झगड़े व जान से मारने की धमकी देने के 3 मुकदमें दर्ज है। पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने कहा कि आरोपी की सूचना देने वाले की पहचान पूर्ण रूप से गुप्त रखी जाएगी।
आरोपी की सूचना जिला पुलिस की निम्न नंबरो पर दें
सीआईए वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल 7056000111
थाना चांदनी बाग प्रभारी इंस्पेक्टर महीपाल सिंह 7056000116

वारदात का विवरण

17 नवंम्बर 2021 को थाना चांदनी बाग में बलकार पुत्र राजबीर निवासी रिसालू ने शिकायत देकर बताया था की उसकी पानीपत नई सब्जी मंडी में आढ़त की दुकान है। वह हर रोज की तरह घर से सुबह करीब साढ़े 4 बजे कार से मंडी में पहुंचा। कार से उतर कर दुकान की और जाने लगा तो उसी समय तीन/चार अज्ञात युवकों ने लाठी डंडो से उसके उपर हमला कर दिया। बचाव के लिये उसने शोर मचाया तो आस पास के लोगो को आता देखकर आरोपी हथियार दिखाते हुए जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से भाग गए। बलकार की शिकायत पर आईपीसी की धारा 323,506,34 व आर्म्स एक्ट के तहत अज्ञात आरोपियों के खिलाफ थाना चांदनी बाग में मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाही अमल में लाई गई थी।

अवैध वसूली करते हैं और ना देने पर अपने गुर्गो से पिटाई करवाते हैं

पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन के संज्ञान में उक्त मामला आते ही उन्होने मामले की गंभीरता को देखते हुए इसका अनुसंधान व आरोपियों को पकड़ने की जिम्मेवारी सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल सिहं को सौंपी। सीआईए-वन पुलिस की टीम ने वारदात स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरा में फुटेज को खंगालने के साथ ही पीड़ित बलकार को अनुसंधान में शामिल किया गया। पिड़ित ने बताया वारदात के संबंध में रमेश मलिक निवासी रिसालू, गोपी सरदार निवासी सेक्टर 11/12 व राहुल निवासी सिवाह आते हैं और राजीनामें का दबाव बनाते हैं। आरोपी सब्जी मंडी में रेहड़ी वालो से अवैध वसूली करते हैं और ना देने पर अपने गुर्गो से पिटाई करवाते हैं।

आरोपियों ने अपने गुर्गो से उसके उपर हमला करवाया

आरोपी रमेश मलिक के कहने पर आरोपी गोपी सरदार व राहुल ने उससे अवैध वसूली की मांग की थी। उसने आरोपियों को वसूली देने से मना किया तो आरोपियों ने अपने गुर्गो से उसके उपर हमला करवाया है। पहले से दर्ज मुकदमें में आईपीसी की धारा 386,387व 389 इजाद कर मामले में आरोपी राकेश उर्फ रोकी निवासी बराह खुर्द जीन्द हाल आजाद नगर पानीपत, अमन निवासी रामरा जीन्द हाल मुखिजा कॉलोनी पानीपत, अमित व अक्षय निवासी विकाश नगर पानीपत को सीआईए वन पुलिस टीम ने 1 मार्च को गिरफ्तार कर गहनता से पुछताछ की तो चारों आरोपियों ने रमेश मलिक, गोपी, सरदार व राहुल के कहने पर उक्त वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा। रिमांड अवधी पूरी होने के बाद गिरफ्तार चारों आरापियों को न्यायालय में पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा जा चुका है। पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने बताया मामले में फरार आरोपी रमेश मलिक को पकड़ने के लिए सीआईए-वन पुलिस की टीम उसके संभावित ठिकानों पर लगातार दबिश दे रही है।
आरोपी पुलिस पकड़ से बचने के लिए लगातार ठिकाने बदल-बदल कर रह रहा है
आरोपी पुलिस पकड़ से बचने के लिए लगातार ठिकाने बदल-बदल कर रह रहा है। आरोपी की धरपकड़ के लिये सूचना के संबंध में पानीपत पुलिस द्वारा अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक क्राईम श्री ओपी सिंह से इनाम घोषित करने बारे आग्रह किया गया था। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक ने आग्रह को स्वीकारते हुए आरोपी रमेश मलिक निवासी रिसालू पर 10 हजार रूपए का इनाम घोषित किया है। आरोपी की सूचना देने वाले की पहचान पूर्ण रूप से गुप्त रखी जाएगी। पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने एक बार फिर साफ व कड़े शब्दों में अपराधियों को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि अपराध व अपराधियों को किसी भी रूप में पनपने नहीं दिया जाएगा। साथ ही आमजन से अपील की है कि इस प्रकार का अपराध अन्य किसी व्यक्ति के साथ घटित हुआ है तो वह निसंकोच उसकी सूचना पुलिस को दें।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular