Homeराज्यदिल्लीNBF National Conclave 2022 : शशि सिन्हा ने ‘Future Of News :...

NBF National Conclave 2022 : शशि सिन्हा ने ‘Future Of News : BARC And Beyond’ पर रखे विचार

आज समाज डिजिटल, नई दिल्ली | NBF National Conclave 2022 : ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) इंडिया के अध्यक्ष (BARC Chairman) शशि सिन्हा (Shashi Sinha) ने न्यूज ब्रॉडकास्टर्स फेडरेशन (NBF) के कार्यक्रम में “फ्यूचर ऑफ न्यूज: बीएआरसी एंड बियॉन्ड” (Future of News: BARC and Beyond) विषय पर अपने विचार व्यक्त किए। चर्चा के दौरान उन्होंने कॉम्पटीटर होने के बावजूद न्यूज ब्रॉडकास्टर्स को सहयोग करने पर जोर दिया और कहा “हम एक दूसरे को नीचा नहीं दिखाते।”

लैंडिंग पेज व्यूअरशिप और सामान्य व्यूअरशिप पर विस्तार से बताते हुए सिन्हा ने कहा कि “BARC ने लगभग तीन साल पहले एक लैंडिंग पेज एल्गोरिथम बनाया था। बार्क के तत्कालीन सीईओ कहा था कि पूरा सत्र निकल जाना चाहिए। हालांकि बोर्ड ने सामूहिक रूप से इस सुझाव को खारिज कर दिया।”

उन्होंने कहा, “लगभग 10 दिन पहले, इंडियन ब्रॉडकास्टिंग एंड डिजिटल फाउंडेशन (IBDF) के साथ, हमने बताया कि पूरे सत्र के सुझाव को खारिज करना सभी शैलियों के लिए मान्य नहीं होगा, इसलिए इसे केवल समाचारों के लिए ही किया जा सकता है।”

क्षेत्रीय भाषा चैनलों के लिए नंबर गेम के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि “स्थानीय भाषा के दर्शकों की संख्या राष्ट्रीय दर्शकों की तुलना में अधिक है। लेकिन इसकी सही संख्या का पता लगाना मुश्किल है क्योंकि हमारे देश में अधिकांश घरों में बॉक्स नहीं हैं। लगभग 60% परिवार केबल कनेक्शन चलाते हैं।

BARC के अध्यक्ष ने कहा, “आज, मीडिया एक वॉल्यूम गेम है। वास्तविक निर्णय युवा कर रहे हैं। उनके लिए न्यूज एक शेयर गेम बन गया है।”

BARC अध्यक्ष ने सहयोग पर जोर दिया

SHASHI SINHA AND KARTIK SHARMA
SHASHI SINHA AND KARTIK SHARMA

बार्क के अध्यक्ष शशि सिन्हा ने NBF नेशनल कॉन्क्लेव में कहा कि ‘कंपटीटर होने के बाद भी आप एक दूसरे की मदद करते हैं, ये आश्चर्य की बात है। “आप आपस में लड़ते हैं, लेकिन एक व्यवसाय के रूप में सहयोग करते हैं। हम एक दूसरे को नीचा नहीं दिखाते। हम इस बारे में विस्तार से बता सकते हैं कि हम कैसे सहयोग करते हैं। न्यूज ब्रॉडकास्टर की सबसे बड़ी बात है आपस में सहयोग करना।”

ये भी पढ़ें : NBF National Conclave 2022 : पूर्व उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू बोले- ‘अलग भाषा अलग भेष फिर भी अपना देश एक’

ये भी पढ़ें : NBF कॉन्क्लेव में मीडिया के दिग्गजों ने ‘न्यूज इंडस्ट्री के भविष्य’ पर की चर्चा

ये भी पढ़ें : NBF National Conclave 2022 : MoS PMO जितेंद्र सिंह ने की NBF की तारीफ, कहा- ‘भारतीय समर्थक पत्रकार बनना अब फैशन में नहीं’

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular