Homeराज्यदिल्लीदिल्ली की जनता को अपनी चुनी हुई सरकार पर अटूट विश्वासः केजरीवाल

दिल्ली की जनता को अपनी चुनी हुई सरकार पर अटूट विश्वासः केजरीवाल

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा सदन में सोमवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विश्वासमत का प्रस्ताव पेश करते हुए कहा कि दिल्ली की जनता को अपनी चुनी हुई सरकार पर अटूट विश्वास है और इसे कोई भी साजिश नहीं हिला सकती। विश्वास प्रस्ताव की जरूरत यह दिखाने के लिए थी कि आम आदमी पार्टी का एक-एक विधायक, मंत्री और कार्यकर्ता कट्टर ईमानदार है। इसलिए कोई नहीं बिका और दिल्ली में इनका ऑपरेशन लोटस फेल हो गया, लेकिन इन्होंने महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, मेघालय, गोवा, मणिपुर, अरुणाचल, बिहार, असम की सरकार गिरा दी और अब झारखंड की सरकार भी गिराने वाले हैं।

सदन में विश्वास प्रस्ताव रख बोले सीएम कोई भी साजिश नहीं सकती हिला

उन्होंने कहा कि टैक्स का पैसा ऑपरेशन लोटस में जाता है। ये अलग-अलग राज्यों में विधायकों को डराकर, खरीदकर सरकारें गिराते हैं और अपनी सरकारें बनाते हैं। इन्होंने दूसरी पार्टियों की सरकारें गिराने और विधायकों को खरीदने में 6300 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। सीएम ने कहा कि ये मिडिल क्लास, स्टूडेंट्स, किसानों के कर्जे नहीं छोड़ते, लेकिन अपने खरबपति दोस्तों के 10 लाख करोड़ रुपए के कर्ज माफ कर दिए। ये अंग्रेजों की तरह जनता का खून चूस रहे हैं और स्कूल, अस्पताल, सड़कें नहीं बना रहे हैं, बल्कि सारा पैसा अपने खरबपति दोस्तों की जेब में डाल रहे हैं। अगर आज ये एमएलए खरीदना और अपने दोस्तों के कर्जे माफ करना बंद कर दें, तो देश में महंगाई तुरंत खत्म हो जाएगी।

विपक्ष ने चर्चा करने की बजाय गंदी और छोटी राजनीति करने कीः सीएम

अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को सदन में विश्वास प्रस्ताव रखा। इससे पहले भाजपा के विधायकों ने सदन में हंगामा करना शुरू कर दिया। जिसके बाद विधानसभा की उपाध्यक्ष राखी बिड़लान ने सभी भाजपा विधायकों को सदन से बाहर कर दिया। सीएम ने सदन को संबोधित करते हुए कहा कि यह बड़े दुख की बात है कि आज इतना अहम विषय श्विश्वास प्रस्ताव्य पर चर्चा होनी है और विपक्ष का इतना गैर जिम्मेदाराना रवैया है। विपक्ष के लोग इस पर चर्चा करना ही नहीं चाहते हैं। वो केवल सदन की कार्रवाई को बाधित करना चाहते हैं। वो केवल ड्रामेबाजी करना चाहते हैं। मुझे लगता है कि सदन की कार्रवाई टीवी चैनलों पर लाइव चल रही होगी। दिल्ली के लोग जब देखेंगे तो यह सोचेंगे कि हमने कैसे लोगों को वोट दे दिया। ये लोग सदन के अंदर बैठ कर क्या करते हैं? सदन के अंदर ये लोग चर्चा ही नहीं करते हैं। सिर्फ नौटंकी करते हैं। यह बड़े ही दुख की बात है कि इतने गंभीर विषय वाले दिन भी इन लोगों ने इतनी गंदी और छोटी राजनीति करने की कोशिश की।

महंगाई की वजह से लोग बहुत ज्यादा परेशानः केजरीवाल

सीएम ने कहा कि आज पूरे देश में लोग महंगाई की वजह से बहुत ज्यादा परेशान हैं। लोगों के घर के खर्चे नहीं चल रहे। कई लोगों को मैं जानता हूं, जो एक टाइम की उन्होंने सब्जी लेनी बंद कर दी है। वो नमक से रोटी खा लेते हैं। कई लोगों ने दूध कम कर दिया है। पूरे देश के अंदर महंगाई की वजह से लोग आज बहुत ज्यादा परेशान हैं। लेकिन जब लोगों से पूछो तो कुछ लोगों को लगता है कि महंगाई अपने-आप बढ़ रही है। महंगाई अपने आप नहीं हो रही है, बल्कि इन लोगों ने महंगाई कर रखी है। इन लोगों ने पिछले पांच-सात साल में हर चीज पर इतना टैक्स लगा दिया, जिसका कोई अंत नहीं है। इन्होंने दही, लस्सी, छाछ, शहद, गेहूं, चावल पर इन लोगों ने टैक्स लगा दिया। आजादी के बाद पिछले 75 साल में कभी इन चीजों पर टैक्स नहीं लगा था। खाने-पीने की चीजों पर तो अंग्रेजों ने भी कभी टैक्स नहीं लगाया था, लेकिन इन लोगों ने टैक्स लगा दिया। इसी वजह से सारी चीजें महंगी होती जा रही है। अगर आज ये लोग सारा टैक्स कम कर दें, तो देश भर में एकदम से महंगाई खत्म हो जाएगी। पूरी दुनिया के अंदर गरबा झांस के नाम से गुजरात जाना जाता है। गरबा डांस गुजरात की संस्कृति में है। नवरात्र के समय देवी की पूजा करते वक्त लोग गरबा डांस करते हैं। उस पर इन्होंने टैक्स लगा दिया। इन लोगों ने देवी को भी नहीं छोड़ा। हर चीज पर टैक्स बढ़ा दिया और नई-नई चीजों पर टैक्स लगाए जा रहे हैं। इस वजह से महंगाई है। जनता को यह गलतफहमी है कि हमारी महंगाई अपने आप हो रही है। इन लोगों ने हर चीज पर अनाप-शनाप टैक्स लगाया है, इस वजह से महंगाई हो रही है।

दोस्तों के जो कर्जे माफ किए हैं, उसे रिकवर कर लें, तो महंगाई खत्म हो जाएगी

सीएम ने कहा कि देश में किसान दर-दर की ठोंकरें खा रहे हैं। एक किसान ने 50 हजार रुपए का कर्ज ले रखा है, तो ये उसके जमीन की कुर्की कर देते हैं, उसका कर्जा माफ नहीं करते हैं। एक छात्र कर्ज लेकर अपनी डिग्री पूरी करता है, उसके कर्जे नहीं माफ करते हैं। उसके पिता जी की जमीन कुर्की कर देते हैं। मिडिल क्लास का कोई आदमी कर्ज लेकर गाड़ी खरीद ली और एक किश्त नहीं देता है, तो ये गाड़ी जब्त करने आ जाते हैं। अगर एक मिडिल क्लास वाले ने लोन लेकर घर खरीद लिया और एक किश्त नहीं देता है, तो उसका घर जब्त कर लेते हैं। उनको नहीं छोड़ते हैं। ये मिडिल क्लास, स्टूडेंट, किसान को नहीं छोड़ते हैं, लेकिन इन्होंने अपने अरबपति-खरबपति दोस्तों के 10 लाख करोड़ रुपए के कर्जे माफ कर दिए। इनके यहां कुछ इस तरह होता है। इनके यहां कोई दोस्त आया और बोला कि मेरे 5 हजार करोड़ रुपए माफ कर दो, तो ये अपने मंत्री को बुलाते हैं और उससे कहते हैं कि दही पर टैक्स लगा देना। फिर दही पर जिनता टैक्स आता है, उससे एक दोस्त के कर्जे माफ कर देते हैं। फिर दूसरा दोस्त आता है और बोलता है कि मेरे 10 हजार करोड़ रुपए के कर्जे माफ कर दो, तो ये कहते हैं कि छाछ पर टैक्स लगा दो। फिर छाछ से जितना पैसा आता है, उससे दूसरे दोस्ते कर्जे माफ कर देते हैं। यह ठीक है क्या? यह तो बिल्कुल गलत है। आज अगर ये लोग अपने दोस्तों के जितने कर्जे माफ किए हैं, उसे रिकवर कर लें, तो इस देश से महंगाई खत्म हो जाएगी।

केंद्र में बैठी सरकार सबसे भ्रष्ट

सीएम ने कहा कि मुझे लगता है कि आजादी के 75 साल में केंद्र में सबसे ज्यादा भ्रष्ट कोई सरकार है, तो वो मौजूदा सरकार है। इससे ज्यादा भ्रष्ट सरकार आजतक कभी नहीं आई। जिस तरह से 10 लाख करोड़ रुपए इनके दोस्त खा गए और 6300 करोड़ रुपए से इन्होंने विधायकों को खरीदे और लाल किले पर खड़े होकर कह रहे हैं कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं। इस देश के लोगो को बेवकूफ बना रहे हैं कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं। कौन मानेगा कि आप भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहे हो। बाजार के अंदर सरेआम तुम विधायकों को खरीद रहे हो और कह रहे हो कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं। तुमको गरीबों की हाय लगेगी। एक गरीब के बच्चे का दूध काट कर तुम एमएलए खरीदते हो। एक गरीब के बच्चे की रोटी काट कर, उसके गेहूं, आटे के ऊपर टैक्स लगा दिया, उससे अपने अरबपति दोस्तों के खजाने भरते हो, तुम्हें हाय लगेगी। अगर आज ये एमएलए खरीदना बंद कर दें और अपने अरबपति दोस्तों के कर्ज माफ करना बंद कर दें, तो मैं दावे के साथ कहता हूं कि देश के अंदर से महंगाई खत्म हो जाएगी। तुरंत महंगाई खत्म हो जाएगी।

ये भी पढ़ें : काली मिर्च होती है कई रोगों के लिए है अमृत, जरूर आजमाएं

ये भी पढ़ें : बारिश में बच्चों की ऐसे करें देखभाल

ये भी पढ़ें : छोटी – छोटी बात पर रोने वाली लड़कियां होती हैं विशेष

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular