Homeराज्यदिल्लीशहरों की पहचान होती हैं सुंदर सड़कें: मनीष सिसोदिया

शहरों की पहचान होती हैं सुंदर सड़कें: मनीष सिसोदिया

चिराग दिल्ली में पुनर्विकसित सड़क की तरह पूरी दिल्ली में सड़कें बनेंगी
आज समाज डिजिटल, नई दिल्ली:

किसी भी शहर की पहचान सबसे ज्यादा उसकी सड़कों से होती है। यदि आप किसी शहर या जगह जाते हैं तो आपका उस बारे क्या विचार बनता है यह उसकी सड़कों पर निर्भर करता है। किसी भी विश्व स्तरीय शहर की सड़कें यदि सुंदर होंगी तो यह उसकी पहचान बनेंगी। यह कहना है दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का। उपमुख्यमंत्री मंगलवार को लोक निर्माण मंत्री सत्येंद्र जैन के साथ चिराग दिल्ली में यूरोपीय तर्ज पर पुनर्विकसित सड़क के हिस्से का दौरा करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों से इस बातर पर चर्चा की कि कैसे परियोजना के तहत पूरी दिल्ली में सड़कों को पुनर्विकिसत किया जाए। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का यह लक्ष्य है कि राजधानी को यूरोपीय शहरों की तरह सुंदर और विश्व स्तरीय सड़कें बनाकर विश्व स्तरीय शहर बनाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार पहले चरण में दिल्ली में 540 किलोमीटर सड़कों के पुनर्विकास, सड़कों के निर्माण और सौंदर्यीकरण के लिए परियोजनाएं चला रही है, ताकि उन्हें यूरोपीय मॉडल के बराबर लाया जा सके। इस मौके पर जानकारी देते हुए सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में जल्द ही यूरोपीय मानकों की तरह सुंदर सड़कें होंगी। हम अपनी प्रतिबद्धता और समर्पण से राष्ट्रीय राजधानी का चेहरा बदल देंगे। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि यह खूबसूरत सड़क दिल्ली में उदाहरण का काम करेगी। जिसे दिल्ली भर में दोहराया जाएगा। ज्ञात रहे कि चिराग दिल्ली की सड़क के एक हिस्से को लोक निर्माण विभाग ने पुनर्विकसित किया है और साइकिल ट्रैक भी बनाया है। यह कार्य पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर किया गया, ताकि इस मॉडल के पूरी दिल्ली में लागू किया जा सके। केजरीवाल सरकार राष्ट्रीय राजधानी में सुधार के लिए कई परियोजनाओं पर काम कर रही है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments