Homeराज्यचण्डीगढ़बहनों ने राज्यपाल की कलाई पर बांधा रक्षा का सूत्र

बहनों ने राज्यपाल की कलाई पर बांधा रक्षा का सूत्र

आज समाज डिजिटल, चण्डीगढ़:
हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि रक्षा बन्धन का पर्व बहन-भाई, पारिवारिक रिश्तों के साथ-साथ धर्म समाज व राष्ट्र को एक जुट करने का सन्देश देता है। इसलिए हम सभी को इस पावन पर्व पर राष्ट्रीय एकता को और अधिक सुदृढ़ करने का संकल्प लेना चाहिए। श्री बंडारू दत्तात्रेय रविवार को राजभवन में रक्षा बन्धन पर्व पर आयोजित एक सादे समारोह में उनको राखी बान्धने आई बहनों को शुभकामना संदेश दे रहे थे। राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने रक्षा बन्धन के पावन पर्व पर प्रदेशवासियों को भी हार्दिक बधाई एवं शुभकामनांए देते हुए सभी के लिए समृद्वि, खुशहाली और प्रगति की कामना की।
इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती कमलेश ढांडा,  राज्यपाल के सचिव श्री अतुल द्विवेदी, ब्रहम कुमारी बहन उत्तरा, नेहा ह्णशी फाऊडेशनह्ण के मुक बधिर बच्चे, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सैक्टर 19 पंचकूला़ की छात्राएं व राजभवन के कार्यालय की महिला कर्मचारी व अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे। उन्होंने सभी बच्चों से बात-चीत की और जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। श्रीमती कमलेश ढ़ाडा के साथ् सभ बहनों ने राज्यपाल श्री दत्तात्रेया को राखी बान्धी और मिठाई खिलाई।
श्री दत्तात्रेय ने कहा है कि पौराणिक ग्रन्थों के अनुसार रक्षा बन्धन का विशेष महत्व है। यह त्योैहार पूरे भारत में बड़े धुमधाम से बनाया जाता है और यह त्यौहार महिलाओं को सशक्त करने के लिए प्रेरित करता है। इसी प्रकार रिशतें को प्रगाढ़ करने व  महिलाओं की रक्षा के लिए भी प्रेरित करता है। इसलिए हम सभी को आपसी भाई चारा बढाते हुए देश, धर्म व समाज की रक्षा के लिए आगे बढ़ कर कार्य करना चाहिए।
उन्होंने उपस्थित छात्राओं से कहा है कि वे पूरी प्रतिबद्वता के साथ आगे बढ़ें और अपने जीवन में अपने लक्ष्य को हासिल करें। उन्होंने यह भी कहा आज लड़कियां  हर क्षेत्र में आगे बढी रही हैं। प्रधानमंत्री जी द्वारा शुरू किए गई बेटी बचाओं बेटी पढाओं अभियान के सार्थक प्रयास सामने आने से देश की बेटी व महिलाएं सशक्त हुई हैं।
राज्यपाल श्री दत्तात्रेया ने कहा है कि जहां महिलाऐं होती है वहां मंगल होता हेै इसलिए महिलाएं देश का गौरव है। उन्होंने रक्षा बन्धन पर्व पर आयोजित पर इस कार्यक्रम में प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा है कि आज वे अपने परिवार के साथ न होते हुए भी परिवार के साथ होने का अहसास महसूस कर रहे हैं उन्हें खुशी है गौरवान्वित तरीके से यह त्यौहार मनाया जा रहा है।
उन्होंने अपील की है कि सभी लोग रक्षाबंधन त्यौहार के साथ सभी त्योहारों को पूरी श्रद्धा और खुशी से मनाएं। इससे हमारी संस्कृति और समृद्ध होगी तथा समाज में आपसी सद्भाव व भाई-चारे की भावना बढेगी।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments