Homeराज्यचण्डीगढ़सॉरी मम्मी, लिखकर एमबीबीएस की छात्रा ने काट ली नस, मौत MBBS...

सॉरी मम्मी, लिखकर एमबीबीएस की छात्रा ने काट ली नस, मौत MBBS Student Commits Suicide

21 वर्षीय तरूसीखा सेक्टर-32 स्थित गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच-32) की छात्रा थी। मंगलवार को छात्रा ने हाथ की नस काट ली। इससे उसकी मौत हो गई।

MBBS Student Commits Suicide

आज समाज डिजिटल, चंडीगढ़:
MBBS Student Commits Suicide : मंगलवार को हरियाणा और पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ के सेक्टर 22 में रह रही एक मेडिकल की छात्रा ने हाथ की नस काट ली। इससे उसकी मौत हो गई। ये खतरनाक कदम उठाने से पहले उसने एक सुसाइड नोट भी लिखा था। पुलिस इसी माध्यम से जांच कर रही है।

छात्रा ने नोट में लिखा कि मम्मी और मोनू मुझे माफ करना मैं आपकी उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी। इसके अलावा उसने लिखा है कि जिन लोगों को पैसे देने हैं उनके पैसे जरूर देना। इसमें दूध वाले आदि कई लोगों के नाम हैं। 21 वर्षीय तरूसीखा सेक्टर-32 स्थित गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच-32) की छात्रा थी।

MBBS Student Commits Suicide
MBBS Student Commits Suicide

तरूसीखा के दाएं हाथ की नस भी कटी थी। पुलिस के अनुसार सुसाइड की सूचना मिलने पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची थी। पुलिस की प्राथमिक जांच में सामने आया कि तरूसीखा का कॉलेज में सेकंड सेशन सोमवार से शुरू हुआ था। जबकि वह पहले दिन घर पर ही अकेली थी। वहीं, छात्रा का पहला सेशन किसी कारणवश छूट गया था। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस की जांच में यह बात भी सामने आई है कि तरूसीखा ने सर्जरी वाले चाकू से हाथ की नस काटी थी।  पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाई की है।

ये है सुसाइड नोट का मजमून

सुसाइड नोट में छात्रा ने लिखा है- मां और मोनू सॉरी, मैंने यह कदम इसलिए उठाया है कि मैं यहां से वापस नहीं जा सकती। मेरे पास कोई और ऑप्शन नहीं है इसलिए मैं सुसाइड कर रही हूं। आगे लिखा है कि मैं आपकी उम्मीदों पर खरी नहीं उतर सकी। वहीं उसने लिखा है कि जिन लोगों के पैसे उसे देने हैं, उनके पैसे वापस दे देना। उसने दूध वाले से एक हजार व अन्य से पैसे उधार ले रखे थे। जिन लोगों से पैसे लिए हैं, वह उनको फेस नहीं कर पा रही है।

MBBS Student Commits Suicide

Read Also : 10 साल के बच्चे की हत्या के बाद जलाने की कोशिश Murder in Bahadurgarh

Read Also : अंग्रेजी शराब और कड़वी, 150 रुपये प्रति बोतल बढ़ाए, देसी सस्ती

Read Also : बंदिश खत्म! सुबह से रात्रि इतने बजे तक शिमला में खुलेंगी दुकानें

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular