Homeखेलअन्य खेलIndo-Pak players used to do ball tempering, no action: Kiran More: बॉल...

Indo-Pak players used to do ball tempering, no action: Kiran More: बॉल टेंपरिंग करते थे भारत-पाक के खिलाड़ी, नहीं हुआ कोई एक्शन: किरण मोरे

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज किरण मोरे ने हैरान कर देने वाला खुलासा किया है। किरण मोरे के मुताबिक साल 1989 में भारत और पाकिस्तान के बीच खेली गई टेस्ट सीरीज में दोनों ही देशों के खिलाड़ियों ने गेंद के साथ छेड़छाड़ की हरकत की थी। किरण मोरे ने ग्रेटेस्ट राइवलरी पॉडकास्ट में बताया कि साल 1989 में भारत और पाकिस्तान के बीच खेली गई टेस्ट सीरीज में रिवर्स स्विंग हासिल करने के लिए दोनों ही टीमों के खिलाड़ी बॉल टेंपरिंग करते थे।
भारत और पाकिस्तान के बीच 1989 में खेली गई इसी टेस्ट सीरीज में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और पाकिस्तान के गेंदबाज वकार यूनुस ने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट करियर का आगाज किया था। किरण मोरे ने खुलासा किया कि रिवर्स स्विंग के लिए खिलाड़ी गेंद को स्क्रैच कर रहे थे और अंपायरों ने भी इस घटना को अनदेखा करते हुए खिलाड़ियों पर कोई एक्शन नहीं लिया। किरण मोरे ने कहा, उन दिनों गेंद से छेड़छाड़ की इजाजत थी, ताकि गेंदबाज रिवर्स स्विंग हासिल कर सकें।
किरण मोरे ने कहा, भारत और पाकिस्तान दोनों टीमों के खिलाड़ियों में से कोई इसकी शिकायत नहीं करता था। हर कोई बॉल टेंपरिंग करता था। इसलिए ही तो तब बल्लेबाजी करना आसान नहीं थी।भारतीय गेंदबाज मनोज प्रभाकर ने भी तब बॉल टेंपरिंग करना सीखा था। विकेट गिरने के बाद उन दिनों अंपायर गेंद को अपने पास नहीं रखते थे और खिलाड़ी गेंद को स्क्रेच करते थे।

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments