VijayShanker Singh

Disaster mismanagement and expert opinion in the second wave of Corona: कोरोना की दूसरी लहर में आपदा कुप्रबंधन और विशेषज्ञों की राय

किसी जमाने मे जब अदालतें न्यायिक निर्णयों के बजाय कार्यपालिका से जुड़े मामलो में दखल देने लगती थीं तो इसे न्यायिक सक्रियता का दौर कहा जाता था और इसकी आलोचना भी होती थी और सराहना भी। आलोचना इस लिये कि....Read More

Who is responsible for the deadly side effect of the second wave? दूसरी लहर के घातक दुष्परिणाम की जिम्मेदारी किसकी?

अब जब सुप्रीम कोर्ट सहित अन्य हाई कोर्ट में इस आपदा पर हंगामा मचा तो अदालत में सरकार ने कहा कि, उसे दूसरी लहर की भयावहता का अंदाज़ा नहीं था। पर द प्रिंट ने इस पर एक विस्तार से लेख लिख....Read More

The system is spoiled, but who will repair it? सिस्टम बिगड़ा तो है, पर उसे सुधारेगा कौन ?

उदारीकरण के दौर में जब सब कुछ निजी क्षेत्रों में सौंप दिए जाने का दौर शुरू हुआ तो उसकी शुरुआत मुक्त बाजार और लाइसेंस परमिट मुक्त उद्योगों से हुई। जो सिस्टम, धीरे धीरे ही सही, लोककल्याणकारी राज्य की अवधारणा के....Read More

Declining public income in a shrinking economy: संकुचित होती अर्थव्यवस्था में  जनता की घटती आय 

1991 में जब ग्लोबलाइजेशन और मुक्त बाजार का दौर शुरू हुआ तो देश मे अचानक समृद्धि आने लगी। परंपरागत नौकरियां जो अमूमन सरकारी नौकरी ही थी, के स्थान पर निजी क्षेत्र में नौकरियों के नए और बहुत से अवसर खुले।....Read More

Silence towards public movements in Lokshahi can make the movement violent: विमर्श – लोकशाही में जनआंदोलनों के प्रति चुप्पी आंदोलन को हिंसक बना सकती है.

भोजपुरी में नजरअंदाजी के लिये एक शब्द है, महठियाना। यानी चीजें सामने घट रही हैं, सुनाई दे रही है, फिर भी मूँदहू आंख कतहु कुछ नाहीं के भाव से, उसे होते देते रहना, और उससे मुंह चुरा कर, बने रहना,....Read More

Police and Political Interference: विमर्श – पुलिस और राजनीतिक दखलंदाजी

2012 - 13 में जब सुप्रीम कोर्ट ने भरी अदालत में सीबीआई को एक पिजड़े का तोता कहा तो तब खूब हो हल्ला मचा। तत्कालीन सीबीआई प्रमुख से जब पत्रकारों ने पूछा कि, " सुप्रीम कोर्ट की इस टिप्पणी पर....Read More

Corruption in public life and letter of Paramveer Singh: विमर्श – सार्वजनिक जीवन में भ्रष्टाचार और परमवीर सिंह की चिट्ठी 

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर और महाराष्ट्र के वर्तमान डीजी होमगार्ड परमवीर सिंह का एक पत्र आज कल चर्चा में बना हुआ है। इस संबंध में ताज़ी खबर यह है कि, परमबीर सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में आज एक याचिका....Read More

Descent falling in the country of the country is worrisome: देश की दुनिया मे गिरती हुयी क्षवि, चिंताजनक है

दुनिया मे जब भी उदार परंपराओं, विरासत, संस्कृति और समाज की चर्चा होती है तो, भारत का नाम सबसे पहले लिया जाता है। पाश्चात्य संसार ने भले ही 1789 की फ्रेंच क्रांति के बाद स्वतंत्रता, समानता और बंधुत्व के नारे....Read More

Participation of women in the agricultural system : कृषि व्यवस्था में महिलाओं की भागीदारी

यदि एक शब्द में इस सौ दिन से चल रहे किसान आन्दोलन की उपलब्धि बतायी जाय तो वह है जनता का तंद्रा से उठ खड़ा होना। यानी जाग जाना, जागरूकता। जनता में अपने अधिकारों और श्रम की उचित कीमत के....Read More

Hundred Days of Farmer Movement and History of Farmer Movements: किसान आंदोलन के सौ दिन और किसान आंदोलनों का इतिहास 

किसान आंदोलन अपने सौ दिन पूरे करने जा रहा है। सरकार का स्टैंड अब भी वही है कि बातचीत से ही रास्ता निकलेगा, पर न तो बातचीत हो रही है और न ही बातचीत की तारीख तय हो पा रही....Read More

Load More