Home खेल क्रिकेट World Cup countdown-11 days left: विश्व कप काउंट डाउन-11 दिन शेष विश्व कप जीत दिलाती है महान कप्तान का तमगा

World Cup countdown-11 days left: विश्व कप काउंट डाउन-11 दिन शेष विश्व कप जीत दिलाती है महान कप्तान का तमगा

0 second read
0
0
150

नई दिल्ली। भारत को अनेक महान कप्तान मिले हैं लेकिन जिन्होंने देश को विश्व कप का खिताब जितवाया है,वे सिर्फ दो हैं। एक कपिल देव और दूसरे महेंद्र सिंह धोनी। टीम इंडिया के लिए जबरदस्त प्रदर्शन करने और शानदार कप्तानी करने के बावजूद सौरभ गांगुली जैसे कप्तानों को मलाल रहता है कि उन्होंने देश को विश्व कप नहीं दिलाया। पाकिस्तान को एक विश्व कप दिला कर इमरान खान अपने देश के सबसे बड़े क्रिकेटर ही नहीं बल्कि देश की सबसे बड़ी हस्ती बन गए। ऐसे ही कपिल देव ने भारत को विश्व कप दिलाया तो उनकी ख्याति भारतीय परिप्रेक्ष्य में एकदम से आसमान छूने लगी। सुनील गावस्कर देश के महान क्रिकेटर हैं लेकिन उनके नाम के आगे भी विश्व विजेता का तमगा नहीं लगा। ऐसे ही सचिन तेंदुलकर भारत के अनमोल रत्न हैं लेकिन कप्तान के रूप में वे सफल नहीं हुए और खुद ही उन्होंने कप्तानी से किनारा कर लिया।
खिलाड़ियों के साथ अक्सर यह होता है कि उम्र बढ़ने के साथ उनके प्रशंसक भी उनके रिटायर होने का इंतजार करने लगते हैं। लेकिन महेंद्र सिंह धोनी के लिए क्रिकेट प्रशंसक आज भी चाहते हैं कि वे खेलना जारी रखें। धोनी का कद बढ़ाने में उनकी विश्व कप विजयी छवि भी काम करती है। धोनी ने एक नहीं बल्कि दो विश्व कप जितवाए हैं। एक वनडे विश्व कप तो दूसरा टी20 विश्व कप। आज भी उनकी सूझबूझ को लोग सलाम करते हैं। आज भी क्रिकेट प्रशंसक चाहते हैं कि वे विश्व कप में अभी नौसिखिए कप्तान माने जा रहे विराट कोहली को राह दिखाएं और विश्व कप जिताने में मदद करें। क्रिकेटर के रूप में विराट कोहली उन सभी ऊंचाइयों को हासिल करते जा रहे हैं जिनसे क्रिकेटर महान कहलाता है लेकिन यदि वे 2019 का विश्व कप जीत लेते हैं तो उनकी महानता पर मुहर लग जाएगी। विराट के पास पर्याप्त सक्षम टीम भी है जो इंग्लैंड में ट्रॉफी उठा सकती है। अनुभव और युवा शक्ति का अच्छा सामंजस्य है। सो इस विश्व कप में अब इंतजार है विराट के महान कप्तान बनने का। भारत का क्रिकेट प्रेमी अपने मन में इन्हीं सपनों को संजोये हुए है। यहीं कारण है कि लंदन जैसे महंगे देश में भारत के क्रिकेट प्रेमियों का हुजूम लगने वाला है।

विपिन कुमार बहुगुणा

Load More Related Articles
Load More By Vipin Bahuguna
Load More In क्रिकेट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

London Diaries played to save the honor, returned with victory: लंदन डायरी-सम्मान बचाने के लिए खेले, जीत के साथ लौटे

लंदन। पाकिस्तान की टीम शुक्रवार को लॉर्ड्स के मैदान में 350 रन नहीं बना पाई। सो वह सेमीफाइ…