Home मनोरंजन Tumhari Sulu Movie Review: विद्या बालन ने बता दिया, ‘सुलु सब कर सकती है’..

Tumhari Sulu Movie Review: विद्या बालन ने बता दिया, ‘सुलु सब कर सकती है’..

0 second read
0
0
1,689

नई दिल्‍ली: फिल्‍म ‘तुम्हारी सुलु’ की कहानी है एक हाउस वाइफ सुलोचना की जिसका पति गारमेंट फैक्ट्री में काम करता है और 10 साल का एक बेटा भी है. सुलु यानी सुलोचना अपने परिवार में खुश है. वह कम पढ़ी लिखी है, उसके सपने बड़े नहीं है लेकिन वो कुछ भी करके थोड़ा पैसा कमाना चाहती है और एक दिन उसे एक रेडियो स्टेशन में रात के प्रोग्राम के लिए आर जे की नौकरी मिल जाती है.

सुरेश त्रिवेणी द्वारा निर्देशित फिल्म ‘तुम्हारी सुलु’ की सबसे खास बात ये है कि यह आज के दौर की फिल्‍म लगती है. देखते समय ऐसा लगता है कि किसी बड़े शहर के मध्यम वर्ग या निम्न मध्यम वर्ग के परिवार की कहानी हम देख रहे हैं और ऐसे परिवार में इस तरह की चीजें होती हैं यानी दर्शक इस कहानी से रिलेट कर सकते हैं. कहानी में बहुत बड़ी बड़ी बातें नहीं हैं, बस एक परिवार की ज़रूरतों, उनके बीच के प्यार, रिश्तेदारों का दखल या सुझाव को बड़ी ही सरलता से दिखाया गया है. खासतौर से पहला भाग अच्छा है जहां मनोरंजन भी है. आमतौर पर आजकल फिल्मों में सपनों के पीछे भागना, ढेर सारा त्याग दिखाया जाता है, लेकिन सुलु का किरदार ऐसा नहीं है.

 सुलु कुछ करना चाहती है लेकिन उसके पीछे दीवानी नहीं है. सुलु की सोच है कि होगा तो ठीक वरना कुछ और कर लेंगे. यही वजह है कि किरदार अपना सा लगता है. इस फिल्‍म में पति-पत्नी के बीच के रिश्तों को बेहतरीन तरीके से दर्शाया गया है. विद्या बालन ने सुलु के किरदार में जान डाली है. उनके पति की भूमिका में मानव कॉल भी जमे हैं. लेकिन फिल्‍म की कमजोर कड़ी है इसकी लंबाई. दूसरा भाग खासतौर से खिंचा हुआ लगता है. फिल्‍म के कई सीन बिना मतलब के और लंबे हो गए हैं, जिसकी वजह से फ़िल्म खींची हुई लगती है.
 
कहानी भले ही बड़े शहर के मध्यम वर्गीय परिवार की है मगर मुझे डर है कि दर्शक कहीं इसे मल्टीप्लेक्स की फिल्‍म न समझ ले क्योंकि आजकल बहुत ही जल्द दर्शक मल्टीप्लेक्स और सिंगल स्क्रीन की फिल्‍म का फैसला कर लेते हैं. मैं कहूंगा कि आप इस फिल्‍म को एक बार देख सकते हैं क्योंकि बहुत ज्‍यादा मनोरंजन मिले या न मिले, पति पत्नी का रिश्ता कैसा होना चाहिए, ये जरूर बताएगी. ‘तुम्हारी सुलु’ एक पारिवारिक फिल्‍म है इसलिए इस फ़िल्म के लिए मेरी रेटिंग है 3 स्टार.
Load More Related Articles
Load More By आजसमाज ब्यूरो
Load More In मनोरंजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

महिला कांग्रेस में भी होंगी 5 कार्यकारी अध्यक्ष, हाईकमान ने जारी किया आदेश

भोपाल । विधानसभा चुनावों को देखते हुए कांग्रेस अपने संगठनात्मक ढांचे को चुस्त-दुरुस्त करने…