Home टॉप न्यूज़ There is no distinction between 130 crore countrymen – PM Modi: 130 करोड़ देशवासियों से कोई भेद नहीं-पीएम मोदी

There is no distinction between 130 crore countrymen – PM Modi: 130 करोड़ देशवासियों से कोई भेद नहीं-पीएम मोदी

4 second read
0
0
115

नई दिल्ली। संसद भवन के केंद्रीय कक्ष में एनडीए की बैठक शुरू हुई। इस बैठक में भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के नवनिर्वाचित सभी 303 सांसद मौजूद हैं। बैठक में औपचारिक रूप से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपना नेता चुनेंगे। इसके साथ ही सरकार के गठन की दिशा में प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा सकेगा। संसदीय बोर्ड की बैठक के लिए नए चुने गए सांसद और अन्य नेता पहुंचे। बैठक में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पहुंचे। नरेन्द्र मोदी को पहले ही राजग का नेता घोषित किया जा चुका है, ऐसे में इस बैठक को एक तरह से औपचारिकता माना जा रहा है। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा 302 सीटें जीत चुकी है और राजग गठगबंधन को 350 सीटें हासिल हुई है।

अमित शाह ने कहा, कश्मीर से कन्याकुमारी और कामाख्या से कच्छ तक जनता ने मोदी जी के समर्थन में मतदान किया है। चुनाव प्रक्रिया के समय देश में हर जगह मोदी जी की सुनामी दिखाई देती थी, इस सुनामी ने विपक्षी पार्टियों को ध्वस्त कर दिया है।मोदी को भाजपा संसदीय दल का नेता चुना गया। अमित शाह शाह ने मोदी के नाम का प्रस्ताव रखा और पूर्व पार्टी अध्यक्षों राजनाथ सिंह तथा नितिन गडकरी ने प्रस्ताव का अनुमोदन किया। मोदी के नेतृत्व में राजग ने आम चुनाव में बड़ी सफलता हासिल की है जिसमें भाजपा की 303 सीटें शामिल हैं।

-अमित शाह ने कहा, 60 के दशक के बाद इस देश के लोकतंत्र को परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण इन तीन नासूरों ने डसा हुआ था। हर जनादेश कहीं न कहीं परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण की राजनीति से ग्रसित था। 2019 के जनादेश ने परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण को राजनीति से बाहर निकाल दिया है।

-अमित शाह ने कहा, जनता के मन में एक टीस थी कि आतंकवाद पर ठोस कार्रवाई नहीं होती। मोदी जी के आने के बाद जनता को विश्वास हुआ कि अब एक नेता ऐसा आया है जो आतंकवादियों के घर में घुसकर कार्रवाई कर सकता है।

– अमित शाह ने कहा, जिस प्रकार से मोदी जी ने पांच साल शासन चलाया उसको देश की जनता ने स्वीकारा है। वो बताता है कि देश की जनता ने नरेन्द्र मोदी एक्सपेरिमेंट को मन से फिर एक बार स्वीकारा है।

– अमित शाह ने कहा, चुनाव अभियान के समय कई सवाल उठाए जाते थे, लेकिन हमारे सभी साथियों को विश्वास था कि हम 50 प्रतिशत की लड़ाई लड़ेंगे और एनडीए को मोदी जी के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत प्राप्त होगा।

-अमित शाह ने कहा, ये अभूतपूर्व जनादेश मोदी जी की नीति, उनके नेतृत्व और उनकी लोकप्रियता का जनादेश है।

-अमित शाह ने कहा, जनता ने जिस प्रकार से मोदी जी के शासन को स्वीकारा है, वो बताता है नरेन्द्र मोदी एक्सपेरिमेंट को जनता ने पूर्ण रूप से मान्यता दी है

– अमित शाह ने कहा, देश के सभी कौने से जनता ने एनडीए और मोदी जी को पूर्ण समर्थन दिया है।

– भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सभी सहयोगी पार्टियों और सांसदों को इस बात के लिए धन्यवाद दिया कि उन्होंने सर्वसम्मति से राजग के नेता नरेंद्र मोदी को देश के प्रधानमंत्री पद के लिए चुना।

– पीएम मोदी ने कहा”जनप्रतिनिधियों से मेरा आग्रह रहेगा है कि मानवीय संवेदनाओं के साथ अब हमारा कोई पराया नहीं रह सकता है। इसकी ताकत बहुत बड़ी होती है। दिलों को जीतने की कोशिश करेंगे।”

– “जनप्रतिनिधि के लिए कोई भेद भाव की सीमा रेखा नहीं होती। जो हमारे साथ थे, हम उनके लिए भी हैं, जो भविष्य में हमारे साथ होंगे हम उनके लिए भी हैं।”

– “इसकी ताकत बहुत बड़ी होती है। दिलों को जीतने की कोशिश करेंगे।”

– “ये देश परिश्रम की पूजा करता है। ये देश ईमान को सर पर बिठाता है। यही इस देश की पवित्रता है।”

– “विश्वास की डोर जब मजबूत होती है, तो प्रो-इंकंबेंसी वेव पैदा होती है, यह वेव विश्वास की डोर से बंधी हुई है। ये चुनाव पॉजिटिव वोट का चुनाव है। फिर से सरकार को लाना है, काम देना है, जिम्मेदारी देनी है। इस सकारात्मक सोच ने इतना बड़ा जनादेश दिया है।”

– “भारत के लोकतांत्रिक जीवन में, चुनावी परंपरा में देश की जनता ने एक नए युग का आरंभ किया है। हम सब उसके साक्षी हैं। 2014 से 2019 तक देश हमारे साथ चला है, कभी-कभी हमसे दो कदम आगे चला है, इस दौरान देश ने हमारे साथ भागीदारी की है।”

– “आम तौर पर कहा जाता है कि चुनाव बांट देता है, दूरियां पैदा करता है, दीवार बना देता है। लेकिन 2019 के चुनाव ने दीवारों को तोड़ने का काम किया है। इस चुनाव ने दिलों को जोड़ने काम किया है। ये चुनाव सामाजिक एकता का आंदोलन बन गया है।”

– “आज एनडीए के सभी वरिष्ट साथियों ने मुझे आशीर्वाद दिया है। आप सबने मुझे नेता के रूप में चुना है। मैं इसे व्यवस्था का हिस्सा मानता हूं। मैं भी आपमें से एक हूं। आपके बराबर हूं। हमें कंधे से कंधा मिलाकर चलना है।”

– “भारत के लोकतंत्र को हमें समझना होगा। भारत का मतदाता, भारत के नागरिक के नीर, क्षीर, विवेक को किसी मापदंड से मापा नहीं जा सकता है। हम कह सकते हैं सत्ता का रुतबा भारत के मतदाता को कभी प्रभावित नहीं करता है। सत्ताभाव भारत का मतदाता कभी स्वीकार नहीं करता है।”

– “ये चुनाव कितना बड़ा और व्यापक होता है इसकी व्यवस्थाएं कितनी होती हैं, ये विश्व के लिए बहुत बड़ा अजूबा है। इस काम को चुनाव आयोग ने, राज्यों के चुनाव आयोग ने, सरकारी मुलाजिम, सुरक्षा बल इन सब की एक कठोर परिश्रम का एक कालखंड होता है।”

– “भारत में तो चुनाव अपने आप में उत्सव था, मतदान भी अनेक रंगों से भरा था, लेकिन विजयोत्सव उससे भी अधिक शानदार था। देश के साथ विश्वभर के भारत प्रेमियों ने इस विजयोत्सव में हिस्सा लिया है। ये हमारे लिए गर्व की बात है।”

– “देश की राजनीति ने जो बदलाव आया है, आप सभी ने इसका नेतृत्व किया है। आप सभी अभिनंदन के आभारी हैं। लेकिन जो सदस्य पहली बार चुनकर आए हैं वे विशेष अभिनंदन के आभारी हैं।”

– पीएम मोदी ने कहा, सेंट्रल हॉल की आज ये घटना असामान्य घटना है. हम आज नए भारत के हमारे संकल्प को एक नई ऊर्जा के साथ आगे बढ़ाने के लिए एक नई यात्रा को यहां से आगे बढ़ाने वाले हैं।

– पीएम मोदी ने कहा, मैं ह्रदय से आप सबका आभार व्यक्त करता हूं। भाजपा ने संसदीय दल के नेता के रूप में सर्वसम्मति से मुझे चुना और एनडीए के सभी दलों ने इसका समर्थन किया और इसके लिए मैं आभारी हूं।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In टॉप न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

ED’s intentions not right, ED-Chidambaram wants to spoil the image: ईडी के इरादे ठीक नहीं, छवि खराब करना चाहता है ईडी-चिदंबरम

नई दिल्ली। आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम ने बुधवार को अपनी जमानत…