Home खेल अन्य खेल Serena can match court records in Australian Open:आस्ट्रेलियाई ओपन में कोर्ट के रिकार्ड की बराबरी कर सकती है सेरेना

Serena can match court records in Australian Open:आस्ट्रेलियाई ओपन में कोर्ट के रिकार्ड की बराबरी कर सकती है सेरेना

0 second read
0
0
75

मेलबर्न। सेरेना विलियम्स अगले सप्ताह से शुरु होने वाले आस्ट्रेलियाई ओपन में मारग्रेट कोर्ट के 24 एकल ग्रैंडस्लैम रिकार्ड की बराबरी कर सकती है लेकिन कई दिग्गज पहले ही उन्हें सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ महिला टेनिस खिलाड़ी मानते हैं। आस्ट्रेलिया की कोर्ट ने अपने 24 ग्रैंडस्लैम में से 13 खिताब 1968 से पहले जीते थे जबकि महिला टेनिस भी ओपन युग से जुड़ा और पूरी तरह पेशेवर बना। अब 76 साल की कोर्ट ने 1960 से 1973 तक 24 एकल खिताब जीते जिसमें 11 आस्ट्रेलियाई ओपन, पांच फेंच ओपन, तीन विंबलडन और पांच यूएस ओपन शामिल हैं। सेरेना ने 1998 से लेकर अब तक 23 एकल खिताब जीते हैं जिनमें सात आस्ट्रेलियाई ओपन, तीन फ्रेंच ओपन, सात विंबलडन और छह यूएस ओपन शामिल हैं। अपने करियर में 18 ग्रैंडस्लैम जीतने वाली क्रिस एवर्ट का मानना है कि वर्तमान में खेल का स्तर पूर्व की तुलना में काफी बेहतर है और तुलना बेमतलब है। एवर्ट ने पिछले साल सीबीएस से कहा, ‘बेशक सेरेना सर्वश्रेष्ठ है। हम अपने जमाने में सर्वश्रेष्ठ थे और सेरेना अपने युग में सर्वश्रेष्ठ है।’ कोर्ट के 24 खिताब पर सेरेना की निगाह 2017 आस्ट्रेलियाई ओपन से लगी है। तब आठ सप्ताह की गर्भवती होने के बावजूद उन्होंने खिताब जीता था। कोर्ट इससे परेशान नहीं हैं कि सेरेना उनका रिकार्ड की बराबरी कर सकती हैं या उसे तोड़ सकती हैं। उन्हें संतोष हैं कि उन्होंने एकल खिताब के अलावा 40 ग्रैंडस्लैम युगल खिताब भी जीते हैं। उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि कोई भी खिलाड़ी मेरे कुल 64 ग्रैंडस्लैम खिताब के रिकार्ड को नहीं तोड़ पाएगा। लेकिन अगर कोई 24 से अधिक एकल खिताब जीतेगी तो ठीक है वह इसकी हकदार होगी।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In अन्य खेल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Jagdeep made a meaningful name by burning justice lamp:न्याय दीप जलाकर जगदीप ने सार्थक किया नाम

न्याय की आसंदी पर बैठना आसान है, लेकिन उसके दायित्वों का निर्वहन बेहद कठिन है। न्याय वही क…