Home अर्थव्यवस्था Ratan India Finance will give loans to small businessmen: छोटे कारोबारियों को कर्ज देगी रतन इंडिया फाइनेंस

Ratan India Finance will give loans to small businessmen: छोटे कारोबारियों को कर्ज देगी रतन इंडिया फाइनेंस

2 second read
0
0
117

राजीव रतन और अमेरिका स्थित निजी इक्विटी लोन स्टार फंड का साझा उपक्रम रतन इंडिया फाइनेंस सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग यानी एमएसएमई को कर्ज देने के कारोबार में उतर रही है। कंपनी की कोशिश है कि देश में छोटे व्यवसायों को आसानी से ऋण की सुविधा मिल सके। रतन इंडिया फाइनेंस के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री राजीव रतन ने कहा “भारत में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों के विकास और प्रदर्शन को गति प्रदान के भारत सरकार के प्रयासों को ध्यान में रखते हुए कंपनी ने एमएसएमई श्रेणी के उद्योगों को कर्ज देने की योजना बनाई है। यह एक बिल्कुल नई विकसित तकनीकी प्लेटफॉर्म पर आधारित है और आंकडों के मजबूत विश्लेषण की मदद से ग्राहकों को आसान और समेकित अनुभव मुहैया कराएगा। ।”

श्री रतन ने बताया “एमएसएमई कारोबारी ऋण, कार्यशील पूंजी, चालान और आपूर्ति श्रृंखला जैसी व्यापक वित्तीय सुविधाओं का लाभ उठा पाने में सक्षम होगे, जो उनके विकास को तेज गति देगा। एमएसएमई देश की अर्थव्यवस्था और सामाजिक विकास में अहम भूमिका निभाते हैं। रतन इंडिया फाइनेंस में हमारा मुख्य लक्ष्य एमएसएमई की आर्थिक जरूरतों को पूरा कर उन्हें सशक्त बनाना है ताकि वो अपनी पूरी क्षमताओं को पहचान सकें। हम इस श्रेणी में ऋण की उपलब्धता और ऋण की प्रक्रिया में मौजूद बड़े अंतर को भरने के लिए उत्सुक हैं।”

उन्होंने बताया “रतन इंडिया फाइनेंस ने अगले 5 वर्षों में ऋण खाते को एक अरब अमेरिकी डॉलर तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा है और ये अब तक औद्योगिक, खुदरा और लघु-मध्यम उपक्रमों में 1200 करोड़ रुपये तक का कर्ज दे चुका है। कंपनी पिछले वर्ष के आखिर में लघु-मध्यम उपक्रमों के ग्राहकों के लिए असुरक्षित और सुरक्षित ऋण की शुरुआत कर चुकी है।”

रतन इंडिया फाइनेंस के खुदरा एवं एसएमई प्रमुख श्री अमित मांडे ने कहा “वित्त वर्ष 2019-2020 हमारे विकास के लिए महत्वपूर्ण समय होगा, जब अपने व्यवसाय को बढ़ाने की योजना बना रहे हैं और अपने संचालित उत्पादों में अपनी स्थिति शीर्ष 10 एनबीएफसी में स्थापित करना चाहते हैं। अपने व्यवसाय को बढ़ाने की योजना के तहत एमएसएमई ऋण और एसएमई उत्पादों के अनुसार असुरक्षित और सुरक्षित ऋण की शुरुआत की है।”
रतन इंडिया फाइनेंस खुदरा ऋण कारोबार फिलहाल नौकरी-पेशा एवं स्वरोजगार में शामिल ग्राहकों को व्यक्तिगत ऋण, एसएमई सुरक्षित एवं असुरक्षित ऋण और सम्पत्ति के एवज में ऋण मुहैया करा रहा है। आने वाले वर्ष में उपभोक्ता एवं एसएमई क्षेत्र में कुछ और उत्पादों की शुरुआत करने की योजना है।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In अर्थव्यवस्था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

CBI team reaches inside Chidambaram’s house by hanging the wall: दीवार फांदकर सीबीआई की टीम चिदंबरम के घर के अंदर पहुंची

नई दिल्ली। पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम लगभग 27 घंटे बाद सबके सामने प्रेस कॉन्फ्रेंस में …