Home खास ख़बर Rahul should not quit without preparing his options: Moily: राहुल को बिना अपना विकल्प तैयार किए इस्तीफा नहीं देना चाहिए-मोइली

Rahul should not quit without preparing his options: Moily: राहुल को बिना अपना विकल्प तैयार किए इस्तीफा नहीं देना चाहिए-मोइली

0 second read
0
0
93

नई दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस पार्टी की भीषण हार के बाद अपने पद से इस्तीफा देने की पेशकश की थी। हालांकि उनकी पेशकश को सिरे से नकार दिया गया था। राहुल चाहते थे कि इस पद पर किसी गांधी को न बैठाया जाए। बता दें कि राहुल ने अपने ही वरिष्ठ नेताओं पर आरोप लगाया था कि वह अपने बेटों को ही चुनाव जिताने में लगे रहे उन्होंने पार्टी की ओर ध्यान नहीं दिया। अब इस पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एम वीरप्पा मोइली ने कहा है कि राहुल गांधी बिना अपना विकल्प खड़ा किए अध्यक्ष पद नहीं छोड़ सकते। यदि वह इस्तीफा देना चाहते भी हैं तो यह उचित समय नहीं है। जब तक वह कांग्रेस को संभालने के लिए विकल्प नहीं लाते, मैं नहीं समझता कि उन्हें अध्यक्ष पद छोड़ना चाहिए। कांग्रेस नेता ने कहा कि राहुल को अपना इस्तीफा तुरंत वापस लेना चाहिए और जिम्मेदारी संभालनी चाहिए, उन्हें पार्टी में अनुशासन लागू करना चाहिए तथा बिना समय गंवाए पार्टी में सुधार करना चाहिए। राहुल गांधी को पार्टी और पार्टी के लोगों के अंदर आत्मविश्वास, जोश और उत्साह भरना चाहिए। पूर्व कानून मंत्री ने राहुल गांधी से अपनी जिम्मेदारी संभालने की अपील की। कहा कि राहुल अपनी जिम्मेदारी संभालें और कुछ प्रदेश इकाइयों में व्याप्त असंतोष को समाप्त करें। वह विकल्प लाए बिना पार्टी का अध्यक्ष पद नहीं छोड़ सकते। उन्होंने पार्टी की पंजाब और राजस्थान इकाइयों में अंदरूनी कलह और तेलंगाना व महाराष्ट्र में पार्टी छोड़ने की खबरों की ओर इशारा करते हुए कहा कि पार्टी में हम सभी नेता चिंतित हैं। जब नेतृत्व ही कार्य नहीं करेगा, तो ऐसी चीजें तो होंगी ही। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राहुल गांधी को दिल्ली में एक मंथन बैठक बुलानी चाहिए, जिसमें न केवल कांग्रेस कार्यसमिति और प्रदेश इकाइयों के प्रमुखों को ही नहीं बल्कि उसमें पार्टी के उन नेताओं को भी बुलाना चाहिए जो हमेशा संगठन के साथ खड़े हुए। इस तरह की बैठकें प्रदेश स्तर पर भी बुलाई जानी चाहिए। विभिन्न स्तरों पर पार्टी कमेटियों का तत्काल पुनर्गठन होना चाहिए और जो अच्छे परिणाम नहीं दे सके उन्हें बदला जाना चाहिए।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In खास ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

The state government will follow the decision of the central government on NRC: Chief Minister Jairam Thakur: एनआरसी पर राज्य सरकार केंद्र सरकार के फैसले पर करेगी अमल : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर

शिमला। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि राष्ट्रीय नागरिक पंजीकरण (एनआरसी) को लेकर केंद…