Home खास ख़बर Karnataka’s Chief Secretary took one-day leave for daughter’s wedding: कर्नाटक के मुख्य सचिव ने बेटी की शादी के लिए ली एक दिन की छुट्टी

Karnataka’s Chief Secretary took one-day leave for daughter’s wedding: कर्नाटक के मुख्य सचिव ने बेटी की शादी के लिए ली एक दिन की छुट्टी

1 second read
0
0
98

बंगलूरू। शोर शराबे के साथ पैसों की बर्बादी तो भारतीय शादियों में आम बात है। शादियों में अपना रसूख दिखाना शान की बात मानी जाती है। लेकिन आज भी समाज में कुछ ऐसे लोग हैं जिन्हें सादगी और ईमानदारी का शौक है। कर्नाटक के मुख्य सचिव इसके जीवंत उदाहरण हैं। उन्होंने मिसाल पेश करते हुए अपनी बेटी का विवाह कार्यक्रम बेहद साधारण रखा। इस मुख्य सचिव का नाम टीएम विजय भास्कर है। उन्होंने अपनी बेटी की शादी के लिए केवल एक दिन की छुट्टी ली है। केवल इतना ही नहीं उन्होंने शादी को किसी शानदार होटल में आयोजित करने की बजाए व्यालिकवल स्थित एक साधारण से कल्याण मंडप में किया है। भास्कर की बड़ी बेटी विश्रुति पेशे से वकील हैं। वह रविवार को गौतम कुमार राजा के साथ शादी के बंधन में बंधने वाली हैं। महीने के दूसरे शनिवार को सरकारी छुट्टी होती है इसलिए उन्हें काम से तीन दिनों का अवकाश मिल गया है।
निमंत्रण में उन्होंने 500 से ज्यादा मेहमानों से अनुरोध किया है कि वह मंहगे गिफ्ट या बुके लेकर न आएं। भास्कर ने कहा, ‘मैं एक साधारण आदमी हूं। मेरी बेटी सहित परिवार के सभी सदस्य एक साधारण शादी कार्यक्रम चाहते थे।’ उनके होने वाले दामाद गौतम जयनगर से ताल्लुक रखने वाले एक स्टार्ट-अप उद्यमी हैं।
जब उनसे पूछा गया कि उन्होंने शादी के लिए लंबी छुट्टी क्यों नहीं ली तो भास्कर ने कहा, ‘मेरी पत्नी रुक्मिणी सभी चीजों का ध्यान रख रही है। उसने शादी की सभी तैयारियों की जिम्मेदारी खुद ले ली जबकि मैं काम में व्यस्त था।’ उन्होंने इस शादी में राज्य के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी और उप-मुख्यमंत्री जी परमेश्वर को भी आमंत्रित किया है।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In खास ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Launching today: No more in emergency, dial 112: – लॉन्चिंग आज : इमरजेंसी में अब 100 नहीं, डायल करें 112

आज समाज नेटवर्क चंडीगढ़। सिटी ब्यूटीफुल में रहने वाले लोगों को अब आपातकाल में अलग-अलग नंबर …