Home देश Irfan alone took the fight with three terrorists, found Shaurya Chakra: इरफान ने अकेले ही तीन आतंकियों से लिया मोर्चा, पाया शौर्य चक्र

Irfan alone took the fight with three terrorists, found Shaurya Chakra: इरफान ने अकेले ही तीन आतंकियों से लिया मोर्चा, पाया शौर्य चक्र

1 second read
0
0
140

मंगलवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शहीद जवानों की पत्नियों और बहादुर जवानों को मेडल प्रदान कर सम्मानित किया। सम्मानित होने वाले व्यक्तियों में एक चौदह वर्षीय बालक भी रहा।ं वह जम्मू-कश्मीर का रहने वाला है। 14 वर्षीय इरफान रमजान शेख को शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया। उसने साल 2017 में आतंकियों से अकेली ही मोर्चा लिया था। उसने अपनेघर पर तीन आतंकवादियों द्वारा किए गए हमले को नाकाम किया था। 16-17 अक्टूबर 2017 को आतंकवादियों ने राजनीतिक कार्यकर्ता रमजान शेख के घर को घेर लिया। तब उनके 14 साल के बड़े बेटे ने इरफान रमजान शेख ने दरवाजा खोला तो देखा कि उनके घर के बरामदे में एके राइफल और ग्रेनेड के साथ तीन आतंकवादी खड़े थे। इरफान ने अपने परिवार खतरे को भांपाते हुए साहस दिखाया और उन्हें अपने घर में घुसने नहीं दिया। इसी बीच इरफान के पिता रमजान शेख घर से बाहर निकले तो आतंकवादी उनपर टूट पड़े। इसके बाद इरफान ने अपने पिता और परिवार के सदस्यों को बचाने के लिए आतंकियों का सामना किया। इस बीच आतंकवादियों के अंधाधुंध गोलीबारी में रमजान शेख बुरी तरह घायल हो गए। इसके बाद भी इरफान ने हिम्मत नहीं हारी और उस आतंकी से भिड़ गए जिसने पिता पर गोली चलाई थी।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

The disclosure of Lavasa’s disagreeable comment can endanger anyone’s life: Election Commission: लवासा की असहमति वाली टिप्पणी का खुलासा करने से किसी की जान खतरे में पड़ सकती है: चुनाव आयोग

नई दिल्ली। निर्वाचन आयोग (ईसी) ने आरटीआई अधिनियम के तहत चुनाव आयुक्त अशोक लवासा की असहमति …