Home देश I can not understand why didi is behaving like Saddam Hussein? – Vivek Oberoi: मैं समझ नहीं पा रहा कि दीदी सद्दाम हुसैन जैसा व्यवहार क्यों कर रहीं हैं?-विवेक ओबराय

I can not understand why didi is behaving like Saddam Hussein? – Vivek Oberoi: मैं समझ नहीं पा रहा कि दीदी सद्दाम हुसैन जैसा व्यवहार क्यों कर रहीं हैं?-विवेक ओबराय

0 second read
0
0
105

बंगाल में चुनावों में हिंसा लगातार जारी है। हालांकि दीदी इस बात से साफ इनकार कर रहीं हैं कि चुनावों में किसी तरह की हिंसा बंगाल में हो रही है। बता दें कि पश्चिम बंगाल के कोलकाता में मंगलवार को अमित शाह के रोड शो में आगजनी, मारपीट की घटनाएं हुर्इं थीं। वहीं प्रियंका शर्मा को ममता बनर्जी का मीम बनाने पर गिरफ्तार कर लिया गया था। बुधवार को बॉलीवुड अभिनेता विवेक ओबेरॉय ने भी ममता बनर्जी को ट्विीटर पर आड़े हाथों लिया। उन्होंने ममता के ‘लोकतंत्र खतरे में है’ ट्वीट का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए रिट्वीट किया, “मैं समझ नहीं पाता हूं कि दीदी जैसी सम्मानित महिला क्यों सद्दाम हुसैन की तरह व्यवहार कर रही हैं। विडंबना देखिए, कि लोकतंत्र खतरे में है और उसे खुद तानाशाह दीदी से खतरा है। पहले प्रियंका शर्मा और अब तेजिंदर बग्गा। यह दीदीगीरी नहीं चलेगी।”
सोशल मीडिया पर बंगाल की भाजपा नेता प्रियंका शर्मा ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का मीम शेयर किया था जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि बाद में उन्हें सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिल गई। वहीं कथित तौर पर बग्गा और कुछ भाजपा कार्यकतार्ओं को कोलकाता में गिरफ्तार किया गया है जिसका जिक्र उन्होंने अपने ट्वीट में किया।
बता दें कि विवेक ओबेरॉय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक को लेकर सुर्खियों में हैं। विवेक इस फिल्म में रीड रोल में हैं। हालांकि चुनाव आचार संहिता के मद्देनजर इस फिल्म की रिलीज पर रोक लगा दी गई थी। अब यह फिल्म चुनाव परिणाम के बाद रिलीज होगी।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

India’s big victory, ICJ banned Kulbhushan Jadhav’s hanging: भारत की बड़ी जीत,आईसीजे ने कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक लगाई

  द हेग। अंतरराष्ट्रीय अदालत भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से जुड़े मामले में अपना फैसला बुधवा…