Home देश Former judge AK Patanayak will investigate in conspiracy case against Chief Justice: प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ साजिश मामले में पूर्व न्यायाधीश ए.के.पटनायक करेंगे जांच

Former judge AK Patanayak will investigate in conspiracy case against Chief Justice: प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ साजिश मामले में पूर्व न्यायाधीश ए.के.पटनायक करेंगे जांच

0 second read
0
0
97

सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ कथित साजिश संबंधी दावों की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व न्यायाधीश ए के पटनायक को नियुक्त किया है। प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ कथित साजिश संबंधी दावा अधिवक्ता उत्सव सिंह बैंस ने किया था। कोर्ट ने कहा कि न्यायमूर्ति पटनायक प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों के मसले पर गौर नहीं करेंगे। कोर्ट ने केन्द्रीय जांच ब्यूरो, गुप्तचर ब्यूरो और दिल्ली पुलिस को निर्देश दिया कि न्यायमूर्ति पटनायक को जरूरत के समय हर तरह से सहयोग करें। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि न्यायमूर्ति पटनायक की जांच के नतीजे प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ शिकायत की जांच कर रही आंतरिक जांच समिति को प्रभावित नहीं करेंगे।
सुप्रीम कोर्ट ने न्यायपालिका पर ‘सोच समझकर’ किए जा रहे हमले पर गुरुवार को नाराजगी जताई और कहा कि अब इस देश के अमीर एवं ताकतवर लोगों को यह बताने का समय आ गया है कि वे ‘आग’ से खेल रहे हैं और यह रुक जाना चाहिए। वहीं, रिटायर्ड जस्टिस एके पटनायक की अध्यक्षता में जांच टीम बनाई गई है।
शीर्ष अदालत एक अधिवक्ता उत्सव सिंह बैंस के उन दावों पर सुनवाई कर रही थी जिसमे प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई को यौन उत्पीड़न के आरोपों में फंसाने के लिए एक बड़ा षड्यंत्र रचे जाने की बात कही गयी है। न्यायालय ने वकील के दावों की सुनवाई करते कहा कि वह अपराह्न दो बजे आदेश देगा।
न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, न्यायमूर्ति आर एफ नरिमन और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने कहा कि पिछले तीन-चार साल से न्यायपालिका से जिस प्रकार पेश आया जा रहा है, वह उससे बेहद नाराज है। पीठ ने कहा कि वह अपराह्न दो बजे इस मामले में अपना आदेश सुनायेगी।
पीठ ने कहा, ‘पिछले कुछ वर्षों से जिस तरीके से इस संस्था से पेश आया जा रहा है, उसे देखकर हमें कहना पड़ेगा कि यदि ऐसा होगा तो हम काम नहीं कर पाएंगे।’ न्यायालय ने कहा, ‘इस संस्था को बदनाम करने के लिए एक सोच समझ कर हमला किया जा रहा है और सोच समझ कर यह खेल खेला जा रहा है।’ न्यायालय ने कहा कि मनमाफिक पीठ के समक्ष सुनवाई कराने के आरोप बहुत ही गंभीर है और उनकी जांच की जानी चाहिए।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

US Secretary of State Mike Pompeo on 25th to 27th June: India’s Foreign Ministry:अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ 25 से 27 जून तक भारत के दौरे पर : विदेश मंत्रालय

नयी दिल्ली। विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को बताया कि अमेरिकी विदेश मंत्री माइकल पोम्पिओ 2…