Home टॉप न्यूज़ पहला इंदौर दूसरा भोपाल बना देश में दूसरा स्वच्छ शहर

पहला इंदौर दूसरा भोपाल बना देश में दूसरा स्वच्छ शहर

भोपाल । इंदौर ने एक बार फिर बाजी मारते हुए स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में पहला स्थान हासिल किया है। दूसरे स्थान पर मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल रहा है, जबकि तीसरे स्‍थान पर चंडीगढ़ ने बाजी मारी है।
जानकारी के अनुसार स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 के तहत भोपाल शहर ने देश के 4203 शहरों में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। भारत सरकार के आवासन एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप पुरी ने स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 के विजेता शहरों की घोषणा करते हुये नई दिल्ली के मीडिया सेंटर में तीनों शहरों के महापौरों को बधाई दी। महापौर श्री आलोक शर्मा ने स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 में देश का दूसरा सबसे स्वच्छ शहर बनने पर शहर के नागरिकों, निगम के अधिकारी कर्मचारियों को हार्दिक बधाई दी है। स्वच्छ सर्वेक्षण का परिणाम आते ही शहर में हर्ष उल्लास का वातावरण निर्मित हुआ। महापौर श्री आलोक शर्मा, निगम आयुक्त सहित महापौर परिषद के सदस्यगण, पार्षदगण व निगम अधिकारियों की मौजूदगी में शहर के नागरिकों एवं पदाधिकारियों ने राजाभोज सेतु एवं महापौर निवास पर आतिशबाजी की और सभी को बधाई दी।
महापौर आलोक शर्मा ने भोपाल शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण में लगातार दूसरी बार द्वितीय स्थान प्राप्त होने पर कहा कि यह भोपाल एवं भोपालवासियों के लिए अत्यन्त गौरव की बात है। मैं इस उपलब्धि के लिए शहर के सभी नागरिकों का हृदय से आभारी हूँ साथ ही शहर के सांसद, विधायक, निगम परिषद अध्यक्ष, पार्षदगण सहित विभिन्न सामाजिक, राजनैतिक, व्यवसायिक, शैक्षणिक संस्थाओं, रहवासी संघों एवं प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के साथियों के प्रति भी आभार व्यक्त करता हूँ जिन्होंने लगातार शहर को साफ-स्वच्छ रखने एवं स्वच्छता हेतु चलाए गए ‘‘भोपाल की बारी, नंबर-01 की तैयारी’’ के स्लोगन के साथ चलाए गये अभियान को जन-जन तक पहुंचाकर पूरे शहर को इस अभियान से जोड़ा और शहर को इस बड़ी उपलब्धि के लिए तैयार किया। श्री शर्मा ने कहा कि देश में स्वच्छता के मामले में लगातार दूसरा स्थान प्राप्त करने की उपलब्धि के साथ ही इसको बरकरार रखने तथा स्वच्छता के संबंध में जो कमियां है उन्हें दूर करने का एक बड़ा दायित्व भी हमें मिला है जिसका निर्वहन हम पूरी तन्मयता के साथ करेंगे और आने वाले समय में अपने शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण-2019 में प्रथम स्थान पर लाने का प्रयास करेंगे। श्री शर्मा ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहर को साफ-स्वच्छ बनाए रखने हेतु निगमायुक्त सहितपूरी टीम के प्रति भी आभार व्यक्त किया।
स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 में अपने शहर को नंबर 01 बनाने हेतु महापौर आलोक शर्मा के नेतृत्व में भोपाल नगर निगम ने जहां एक ओर शहर में उच्च स्तरीय साफ-सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करने का कार्य किया साथ ही ‘‘भोपाल की बारी, नंबर-01 की तैयारी’’ के स्लोगन को लेकर स्वच्छता अभियान चलाकर नागरिकों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता उत्पन्न के साथ ही स्वच्छता संबंधी कार्यों में सहयोग करने हेतु प्रेरित भी किया।
शहर की खूबसूरती पर बदनुमादाग भानपुर खंती को बंद करने व आदमपुर छावनी में नई लैंडफिल साईट प्रारंभ करने के साथ महापौर श्री आलोक शर्मा ने व्यापारियों को इस अभियान से जोड़ने हेतु चाय पर चर्चा के अनेक कार्यक्रम आयोजित किए गए व ग्रामीण क्षेत्रों में चाय की चैपाल का आयोजन कर ग्रामीणजन को भी स्वच्छता के प्रति जागरूक किया तथा रोको-टोको अभियान व व्यवसायिक क्षेत्रों में रात्रिकालीन सफाई व्यवस्था एवं बाजारों की धुलाई का कार्य, कचरे के पृथक्कीकरण हेतु जागरूकता के लिये घर-घर दस्तक अभियान, कबाड़ से जुगाड़ जैसे नवाचार, स्वच्छता की पाठशाला, माय सिटी माय वाल आदि के माध्यम से नागरिकों में जागरूकता उत्पन्न की।
अभियान के तहत जहां एक ओर महापौर श्री आलोक शर्मा के अलावा निगम आयुक्त श्रीमती प्रियंका दास सहित निगम के सभी अधिकारियों ने समाज के सभी वर्गों के बीच पहुंचकर स्वच्छता के प्रति जनजागृति उत्पन्न की साथ ही स्वयं भी सफाई कार्य में सहयोग कर नागरिकों को भी साफ-सफाई में सहयोग करने हेतु प्रेरित किया वहीं दूसरी ओर शहर के सांसद, विधायक, महापौर परिषद के सदस्य, पार्षदगण व अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी अभियान में सक्रिय भूमिका का निर्वहन किया। स्वच्छता जागरूकता अभियान के अंतर्गत शहर के विभिन्न महाविद्यालयों, विद्यालयों में बच्चों की पेंटिंग, निबंध, लघु फिल्म प्रतियोगिता, का आयोजन किया गया जिसमें शहर के युवा शक्ति ने बड़े जोश के साथ हिस्सा लिया और अपने स्तर पर शहर के नागरिकों को स्वच्छता के प्रति प्रेरित किया। महापौर श्री शर्मा सहित निगम की पूरी टीम के अथक प्रयासों और सभी जनप्रतिनिधियों व शहर के सभी वर्गों के नागरिकों का ‘‘भोपाल की बारी, नंबर-01 की तैयारी’’ स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 अभियान को भरपूर सहयोग प्राप्त होने के फलस्वरूप भोपाल शहर ने देश के दूसरे सबसे स्वच्छ शहर का मुकाम लागतार दूसरी बार हासिल किया है। इस ऐतिहासिक उपलब्धि के लिए महापौर श्री आलोक शर्मा ने अभियान में सहयोग करने पर सभी के प्रति आभार व्यक्त किया है।
शहर को साफ-स्वच्छ बनाए रखने हेतु निगम प्रशासन ने आवश्यक संसाधनों की उपलब्धता भी सुनिश्चित कराई गई साथ ही शहर के सकरे एवं छोटे स्थानों से कचरा उठाने हेतु मैजिक कचरा वाहन एवं साईकिल रिक्शा भी उपलब्ध कराते हुए पार्षदगण को वार्डों से कचरा उठवाने की माॅनीटरिंग करने का आग्रह भी किया गया और शहर के 10 स्थानों पर कचरा कलेक्शन सेंटर व गीले कचरे से बायो गैस व जैविक खाद संयंत्र निर्माण भी कराया। उपरोक्त सभी व्यवस्थाओं एवं प्रयासों के चलते शहर के नागरिकों का भरपूर सहयोग मिला और शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 में द्वितीय स्थान प्राप्त हुआ। उल्लेखनीय है कि भोपाल को पूर्व में स्वच्छ भारत मिशन के तहत खुले में शौच से मुक्त शहर भी घोषित किया गया है।

Load More Related Articles
Load More By आजसमाज ब्यूरो
Load More In टॉप न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

महिला कांग्रेस में भी होंगी 5 कार्यकारी अध्यक्ष, हाईकमान ने जारी किया आदेश

भोपाल । विधानसभा चुनावों को देखते हुए कांग्रेस अपने संगठनात्मक ढांचे को चुस्त-दुरुस्त करने…