Home खास ख़बर फिल्म ‘पद्मावती’ सती प्रथा कानून का उल्लंघन करती है: विज

फिल्म ‘पद्मावती’ सती प्रथा कानून का उल्लंघन करती है: विज

चंड़ीगढ़। हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘रानी पद्मावती’ पर इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने और ‘सती’ प्रथा से संबंधित कानूनों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुये कहा कि सेंसर बोर्ड को जनता की भावनाओं का ध्यान रखते हुये इसकी रिलीज रोक देनी चाहिए। अपने बयानों के कारण अक्सर विवादों में रहने वाले मुखर मंत्री ने आरोप लगाया कि फिल्म में महान रानी के ‘‘आपत्तिजनक’’ चित्रण से उनकी छवि खराब हुई है।

विज ने सोमवार को एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा कि केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी को पहले से ही इस संबंध में लोगों की भावनाओं के अवगत करा दिया गया है। विज ने कहा, ‘‘रानी पद्मावती देश का गौरव थीं। युद्ध में राजा राण रतन सिंह की मौत के बाद उन्होंने 16,000 महिलाओं के साथ जौहर कर लिया था। इतने ऊंचे चरित्र वाली रानी को जनता के सामने नाचते हुये दिखाना अपमान की बात है। यह बहुत आपत्तिजनक है, क्योंकि इसमें इतिहास के साथ छेड़छाड़ की गयी है।’’ उन्होंने कहा कि देश में सती प्रथा पर पूरी तरह प्रतिबंध है और ऐसी फिल्म को अनुमति नहीं दी जा सकती जिसमें सती प्रथा को बढ़ावा दिया गया हो। यह कानून का उल्लंघन है।
Load More Related Articles
Load More By आजसमाज ब्यूरो
Load More In खास ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

वाणिज्यिक खनन के लिए कोयला खदानों के आवंटन पर जल्दी ही होगा निर्णय

नयी दिल्ली । मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) वाणिज्यिक खनन के लिए कोयला खदान…