Home राज्य अन्य राज्य Digvijay Singh’s brother targeted Madhya Pradesh government, said- Rahul Gandhi asks for forgiveness: दिग्विजय सिंह के भाई का मध्य प्रदेश सरकार पर निशाना, कहा- राहुल गांधी मांगे माफी

Digvijay Singh’s brother targeted Madhya Pradesh government, said- Rahul Gandhi asks for forgiveness: दिग्विजय सिंह के भाई का मध्य प्रदेश सरकार पर निशाना, कहा- राहुल गांधी मांगे माफी

0 second read
0
0
143

भोपाल, एजेंसी। मध्यप्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक लक्ष्मण सिंह ने सीधे तौर पर कमलनाथ सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया। कमलनाथ सरकार को आड़े हाथों लेते हुए दिग्विजय सिंह के भाई और कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने बड़ा बयान दिया और कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ किसानों के कर्ज माफ करने के प्रयास अवश्य कर रहे हैं, लेकिन यह भी सच्चाई है कि राज्य सरकार की वित्तीय स्थिति ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि किसानों की कर्जमाफी पर सरकार ने काम तो किया है लेकिन यह सच है कि अब तक इसमें बहुत कुछ नहीं हो पाया है। उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी तक को इसके लिए माफी मांगने तक की बात कही। आज यहां यूनीवार्ता से चर्चा में सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के समय दस दिनों में किसानों के कर्ज माफ करने का वचन दिया था। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सत्ता में आते ही इस दिशा में कार्य भी किए, लेकिन यह सच्चायी है कि राज्य के किसानों के कर्जे दस दिनों में माफ नहीं हो पाए हैं।

लक्ष्मण सिंह ने कहा कि कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष राहुल गांधी ने दस दिनों में कर्ज माफ करने का वादा किया था। लेकिन यह नहीं हो पाया है, इसलिए राहुल गांधी को इस संबंध में माफी मांग लेना चाहिए। इसके बाद राहुल गांधी को यह भी स्पष्ट करना चाहिए कि किसानों के कर्ज कितने समय में माफ हो जाएंगे। राज्य सरकार की ओर से लगभग 20 लाख किसानों के कर्ज माफ करने संबंधी दावे के बारे में पूछे जाने पर लक्ष्मण सिंह ने कहा कि कमलनाथ ने किसानों के कर्ज माफ करने संबंधी फाइल पर दस्तखत किए। इसके बाद किसानों को कर्जमाफी संबंधी प्रमाणपत्र भी दे दिए गए। सिंह का कहना है कि लेकिन उनकी जानकारी के अनुसार 20 लाख किसानों में से लगभग एक तिहायी किसान ऐसे हैं, जिनके खाते में पैसे अभी भी नहीं पहुंचे है। इसलिए किसान परेशान हो रहा है। लक्ष्मण सिंह ने दोहराते हुए कहा कि कमलनाथ बेहतर कार्य कर रहे हैं और करना चाहते हैं, लेकिन राज्य की वित्तीय स्थिति ठीक नहीं है। राज्य सरकार पहले ही कर्ज ले चुकी है। अब बारिश काफी हुयी है। सरकार को फिर से कर्जा लेना पड़ेगा। ऐसी स्थिति में हमारे नेताओं को सच्चायी स्वीकार कर किसानों को बताना चाहिए कि उनके कर्ज कब तक माफ हो जाएंगे।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In अन्य राज्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

According to India News-poll exit poll, NDA government will be formed again in Maharashtra: इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट एग्जिट पोल के मुताबिक महाराष्ट्र में फिर बनेगी एनडीए की सरकार

मुंबई: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 के लिए इंडिया न्यूज- पोलस्ट्रेट का एग्जिट पोल आ गया …