Home देश Capt Amarinder Singh took inspection of Kartarpur Corridor: कैप्टन अमरिंदर सिंह ने करतारपुर कॉरिडोर का जायजा लिया

Capt Amarinder Singh took inspection of Kartarpur Corridor: कैप्टन अमरिंदर सिंह ने करतारपुर कॉरिडोर का जायजा लिया

2 second read
0
0
102

लुधियाना/डेरा बाबा नानक। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने गुरुवार को पाकिस्तान द्वारा ऐतिहासिक गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के दर्शन करने जाने वाले श्रद्धालुओं पर सर्विस चार्ज लगाने के प्रस्ताव को वापस लेने की मांग दोहराते हुए इसकी तुलना मुगल काल के दौरान मुस्लिस देशों में गैर-मुस्लिमों पर लगाए जाने वाले जजिया टैक्स के साथ की। मुख्यमंत्री ने बादशाह अकबर द्वारा अपने कार्यकाल के दौरान विवादित टैक्स को खत्म करने का हवाला देते हुए कहा कि पाकिस्तान द्वारा श्रद्धालुओं पर 20 डॉलर सर्विस चार्ज लगाने के प्रस्ताव को सिख फलसफे की मूल भावना के खिलाफ है जिसमें विभाजन के बाद पाकिस्तान में रह गए गरुधामों के खुले दर्शन दीदार करने की अरदास की जाती है। सीएम करतारपुर गलियारे के काम का जायजा लेने पहुंचे थे, में मीडिया कर्मियों के साथ अनौपचारिक बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पहले ही इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दखल की मांग कर चुके हैं कि वह पाकिस्तान पर इस प्रस्तावित सर्विस चार्ज को वापस लेने के लिए दबाव डालें। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्होंने सुझाव दिया था कि विदेश मंत्रालय द्विपक्षीय मीटिंग में इसके जल्द हल का मामला उठाएं। इससे पहले मुख्यमंत्री ने मंत्री मंडल की मीटिंग की अध्यक्षता की और उन्होंने डेरा बाबा नानक फेरी के दौरान गुरुद्वारा डेरा साहिब में भी माथा टेका।
श्रद्धालुओं की सुविधा पर किया मंथन
इससे पहले सीएम ने कैबिनेट की बैठक में कहा कि उन्होंने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिखकर सुल्तानपुर लोधी ब्यास बटाला और डेरा बाबा नानक मार्ग (जिसे श्री गुरु नानक देव जी मार्ग नाम दिया जाना है) को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करने की मांग की थी। ऐतिहासिक शहर में शुरू किए गए बिजली से संबंधित विभिन्न परियोजनाओं की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने अध्यक्ष पावरकॉम को निर्देश दिया कि करतारपुर साहिब कॉरिडोर तक जाने वाले मार्ग पर बिजली के तारों की भूमिगत वायरिंग सुनिश्चित की जाए। मुख्यमंत्री ने पहले सिख गुरु की 550वीं जयंती समारोह के दौरान शहर आने वाले लाखों भक्तों की सुविधा के लिए सभी आपातकालीन तत्वों को शामिल करते हुए स्वास्थ्य मंत्री को अंतिम रूप देने और एक विस्तृत स्वास्थ्य योजना बनाने के लिए कहा। कैप्टन अमरिंदर ने डीजीपी को डेरा बाबा नानक में एक डीएसपी कार्यालय व पुलिस स्टेशन भवन स्थापित करने की प्रक्रिया में तेजी लाने का निर्देश दिया, जिसके लिए सहकारिता और जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने जमीन मुहैया कराई थी। आईजी बॉर्डर रेंज एसपीएस परमार ने मुख्य समारोह के लिए मुख्यमंत्री को विस्तृत सुरक्षा योजनाओं से अवगत कराया। उन्होंने बैठक को सूचित किया कि भक्तों को किसी भी असुविधा के बिना फुलप्रूफ व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। एक अन्य निर्देश में, मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव नागरिक उड्डयन से विदेशों में बसे श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए लंदन और अन्य यूरोपीय देशों से अमृतसर के लिए विशेष चार्टर्ड उड़ानों के मुद्दे को उठाने के लिए कहा। उन्होंने संबंधित अधिकारियों से भारतीय रेलवे के साथ ऐतिहासिक अवसरों के दौरान शहर में विशेष ट्रेनों की आवृत्ति में वृद्धि के मुद्दे को भी उठाने के लिए कहा। निकटवर्ती 12 गांवों में अपेक्षित मूलभूत सुविधाओं, लॉजिस्टिक्स और आधारभूत संरचना के कार्यों से जुड़े कार्यों की स्थिति की समीक्षा करते हुए, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे ऐतिहासिक घटना के लिए ऐतिहासिक शहर में लाखों श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए समय पर व्यवस्था सुनिश्चित करें।
30 अक्टूबर तक पूरा हो जाएगा कार्य
मुख्यमंत्री ने भरोसा जाहिर किया कि भारत की तरफ आने वाले करतारपुर गलियारे का काम 30 अक्टूबर तक पूरा हो जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने पाकिस्तान की तरफ विकास की गति पर चिंता जाहिर की। गलियारे के साथ सुरक्षा चुनौती पैदा होने संबंधी सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि इस संबंधी निरंतर चौकसी रखने की जरूरत है। श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के समागमों संबंधी शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के साथ विरोधाभास संबंधी पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सुखदायक माहौल में बातचीत चल रही है और उनके कैबिनेट साथी सुखजिंदर सिंह रंधावा ने सभी मसलों को सुखदायक ढंग से सुलझाने के लिए बुधवार को शिरोमणि कमेटी के नुमायंदों के साथ मीटिंग भी की। मुख्यमंत्री ने एक बार फिर इस ऐतिहासिक दिवस की अहमीयत को सम्मुख रखते हुए संकुचित राजनीतिक हित एक तरफ रखकर इसको साझे तौर पर मनाने की अपील की।
पानी और हवा के संरक्षण
मुख्यमंत्री ने लोगों को पानी और हवा के संरक्षण के लिए श्री गुरु नानक देव जी द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चलने की भी अपील की। डेरा बाबा नानक की फेरी को विशेष मौका बताते हुए मुख्यमंत्री ने साल 1965 की भारत-पाक जंग के दौरान सरहदी इलाकों में सेना में निभाई सेवा को भी याद किया। उन्होंने कहा कि यह बहुत गर्व वाली बात है कि भारत के बहादुर सैनिक बाहरी और अंदरूनी हमलों से देश की सरहदों की सुरक्षा कर रहे हैं परंतु उनकी लगातार शहादत से बहुत पीड़ा और बेचैनी होती है।

संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट पर कर रहे पड़ताल

संशोदित हुए मोटर व्हीकल एक्ट के अंतर्गत जुमार्ने बढ़ाने के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा अंतिम फैसला राज्यों पर छोड़ दिया गया है जिस कारण पंजाब के संबंधित मंत्री इस मामले की जांच- पड़ताल कर रहे हैं। राज्य सरकार की प्राप्तियों संबंधी पूछे गए एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने विशेष तौर पर बेरोजगारों की समस्याओं के हल के लिए किए गए कार्यों का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार द्वारा अब तक लगाए चार रोजगार मेलों में 9 लाख युवाओं को नौकरियां /स्व- रोजगार के मौके प्रदान किए जा चुके हैं और पांचवां रोजगार मेला 30 सितंबर तक विभिन्न स्थानों पर लगाया जा रहा है जिसमें दो लाख नौकरियों के मौके और प्रदान किए जाएंगे।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

According to India News-poll exit poll, NDA government will be formed again in Maharashtra: इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट एग्जिट पोल के मुताबिक महाराष्ट्र में फिर बनेगी एनडीए की सरकार

मुंबई: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 के लिए इंडिया न्यूज- पोलस्ट्रेट का एग्जिट पोल आ गया …