Home राज्य उत्तर प्रदेश Announcement of financial aid of 25 lakhs to each martyr’s family: उप्र : प्रत्येक शहीद के परिजन को 25 लाख रूपये की आर्थिक सहायता का ऐलान

Announcement of financial aid of 25 lakhs to each martyr’s family: उप्र : प्रत्येक शहीद के परिजन को 25 लाख रूपये की आर्थिक सहायता का ऐलान

2 second read
0
0
184

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जम्मू कश्मीर के अनन्तनाग जिले में आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के पांच जवानों की शहादत को शत-शत नमन करते हुए उनके परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है । राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बृहस्पतिवार को बताया कि मुख्यमंत्री ने इस आतंकी हमले में शहादत देने वाले प्रदेश के दो वीर सीआरपीएफ जवान शामली के सतेन्द्र कुमार और गाजीपुर के महेश कुशवाहा को भावभीनी श्रद्धांजलि दी । योगी ने इस हमले में घायल हुए जवानों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है । मुख्यमंत्री ने प्रत्येक शहीद के परिजनों को 25 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा की है । उन्होंने शहीद के परिवार के एक सदस्य को मृतक आश्रित के तौर पर सरकारी नौकरी देने की घोषणा भी की है । योगी ने कहा कि शहीदों की स्मृति में इनके गृह जनपद में एक सड़क का नामकरण भी इनके नाम पर किया जाएगा । मुख्यमंत्री ने कहा ‘‘प्रदेश के इन वीर सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा । पूरा प्रदेश और पूरा देश भारत माता के वीर सपूतों के साथ खड़ा है ।’’ जवानों के अन्तिम संस्कार कार्यक्रम में प्रदेश सरकार के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सुरेश राणा शामली तथा राज्य मंत्री नीलकंठ तिवारी गाजीपुर जाएंगे । उल्लेखनीय है कि दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के भीड़-भाड़ वाले केपी रोड पर बुधवार को दिन-दहाड़े बाइक सवार दो आतंकवादियों ने सीआरपीएफ के गश्ती दल और राज्य पुलिस के दस्ते पर गोलियां चलायीं और हथगोले फेंके। हमले में सीआरपीएफ के पांच जवान शहीद हो गए जबकि तीन अन्य घायल हो गए ।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In उत्तर प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Launching today: No more in emergency, dial 112: – लॉन्चिंग आज : इमरजेंसी में अब 100 नहीं, डायल करें 112

आज समाज नेटवर्क चंडीगढ़। सिटी ब्यूटीफुल में रहने वाले लोगों को अब आपातकाल में अलग-अलग नंबर …