Home मनोरंजन अक्षय कुमार का सोशल ड्रामा ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा‘

अक्षय कुमार का सोशल ड्रामा ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा‘

1 second read
0
0
287

एक औरत अपने पति का घर छोड़कर चली जाती है और वह तब तक घर नहीं लौटेगी जब तक कि उसका पति अपने घर में शौचालय नहीं बनवा लेता। अपनी पत्नी के प्यार और सम्मान के लिए वह समाज की पिछड़ी सोच से टकराता है और एक नए सफर पर निकलता है। राष्ट्रीय अवार्ड विजेता एक्टर अक्षय कुमार और प्रतिभाशाली अभिनेत्री भूमि पेडणेकर के अभिनय से सजी फिल्म ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा‘ दो प्रेमियों की कहानी है, जो समाज के उत्थान को ध्यान में रखते हुए अपने रूढ़िवादी परिवारों की मानसिकता बदलने के लिए एक दूसरे से अलग हो जाते हैं। संपूर्ण पारिवारिक मनोरंजन से भरपूर फिल्म ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा‘ का प्रसारण होम आफ ब्लाकबस्टर्स ज़ी सिनेमा पर रविवार 6 मई 2018 को दोपहर 12.30 बजे होने जा रहा है।
इस फिल्म को व्यावसायिक सफलता मिलने के साथ-साथ इसे समीक्षकों ने भी खूब सराहा था।
‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा‘ हास्य, टकराव और रोमांस की कहानी है। इस फिल्म में अनुपम खेर, सुधीर पांडे और दिव्येन्दु शर्मा ने भी महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाई हैं। फिल्म के संवाद बेहद चुटीले हैं और निर्देशक नारायण सिंह ने शब्दों का बड़ा खूबसूरत जाल बुना है। उन्होंने पीढ़ियों के टकराव पर प्रकाश डाला है, जहा ंएक बेटा अपने रूढ़िवादी पिता को सामाजिक विकास के साथ हो रहे नए बदलावों से अवगत कराना चाहता है।
36 साल का केशव अपने पिता के साइकिल के कारोबार को आगे बढ़ाने में अपने भाई नारू की मदद करता है। वह अब तक कुंवारा है क्योंकि उसके अंधविश्वासी पिता यह मानते हैं कि वह सिर्फ ऐसी ही लड़की से शादी करे जिसके अंगूठे पर दो निशान हो। इसी दौरान उसकी मुलाकात एक पढ़ी-लिखी और अच्छे परिवार की लड़की जया से होती है। कई कोशिशें करने के बाद आखिर वह जया का दिल जीतने में कामयाब हो जाता है। इसके बाद उनकी शादी के पहले ही दिन जब जया को पता चलता है कि केशव के घर में शौचालय नहीं है तो इससे टकराव पैदा हो जाता है और वह घर छोड़कर चली जाती है। उदास और निराश केशव अपने प्यार को दोबारा जीतने के मिशन में जुट जाता है, जिसमें उसे दकियानूसी विचारों और देश की रूढ़िवादी मानसिकता से संघर्ष करना पड़ता है।
क्या केशव की योजना कारगर रहेगी? क्या वह पीढ़ियों के अंतर को भर पाएगा, जिसकी वजह से उसके परिवार में कलह पैदा हो गई है?
जानने के लिए देखिए ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा‘, रविवार 6 मई 2018 को दोपहर 12.30 बजे सिर्फ ज़ी सिनेमा पर।

Load More Related Articles
Load More By आजसमाज ब्यूरो
Load More In मनोरंजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

महिला कांग्रेस में भी होंगी 5 कार्यकारी अध्यक्ष, हाईकमान ने जारी किया आदेश

भोपाल । विधानसभा चुनावों को देखते हुए कांग्रेस अपने संगठनात्मक ढांचे को चुस्त-दुरुस्त करने…