Home राजनीति Add people involved in hatred activities with creativity: नफरत की गतिविधियों में संलिप्त लोगों को रचनात्मकता से जोड़ें-वेंकैया नायडू

Add people involved in hatred activities with creativity: नफरत की गतिविधियों में संलिप्त लोगों को रचनात्मकता से जोड़ें-वेंकैया नायडू

0 second read
0
0
79

आतंकवाद की बढ़ती बुराई को लेकर चिंता जताते हुए उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने रविवार को कहा कि नफरत की विचारधारा के समर्थकों को रचनात्मक कार्यों में शामिल करने की जरूरत है, ताकि तबाही को टाला जा सके। नायडू ने यहां 16 वें संयुक्त राष्ट्र वेसाख दिवस में अपने संबोधन में कहा कि राष्ट्रों के बीच संघर्षों की मूल वजह नफरत के विचार में और व्यक्तिगत सोच में है। उल्लेखनीय है कि वेसाख को बुद्ध जयंती के रूप में मनाया जाता है। नायडू ने कहा, ‘दुनिया में आतंकवाद की बढ़ती बुराई इस विनाशकारी भावना का प्रदर्शन है। नफरत की विचारधाराओं के समर्थकों को रचनात्मक कार्यों में शामिल करने की जरूरत है ताकि बेकसूरों की मौत और तबाही को टाला जा सके।’इस कार्यक्रम में वियतनाम के प्रधानमंत्री नगुयेन शुआन फुक, म्यामां के राष्ट्रपति विन मयिंत और नेपाल के प्रधानमंत्री के. पी. शर्मा ओली सहित अन्य शरीक हुए।
नायडू ने कहा कि बुद्ध का शांति और करूणा का संदेश एक विचारधारा प्रदान करता है तथा यह दुनियाभर में साम्पद्रायिक और विचाराधारा चालित हिंसा का प्रभावी जवाब है। उन्होंने कहा, ”हमें भगवान बुद्ध के आदर्शों को कायम रखने के लिए साथ मिल कर काम करने के वास्ते कहीं अधिक सकारात्मक माहौल बनाने तथा वैश्विक समुदाय की नीतियों एवं आचरण में शांति, सह अस्तित्व और समावेशिता एवं करूणा को बढ़ावा देने की जरूरत है…।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In राजनीति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Terrorism will not stop from harsh law only-Congress: केवल कठोर कानून से नहीं रुकेगा आतंकवाद : कांग्रेस

 नयी दिल्ली।  सरकार ने मंगलवार को लोकसभा में कहा कि उसकी रणनीति के कारण देश में आतंकवाद और…