Home राजनीति ‘वोट बैंक’, ‘बैंक बैलेंस’ को छोड़ आपसी रार से निपटें मायावती : भाजपा

‘वोट बैंक’, ‘बैंक बैलेंस’ को छोड़ आपसी रार से निपटें मायावती : भाजपा

0 second read
0
0
516

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में चल रही आपसी रार पर चुटकी ली है. पार्टी ने बसपा अध्यक्ष मायावती को ‘वोंट बैंक’ और ‘बैंक बैलेंस’ की राजनीति से बाहर निकलकर पार्टी का आपसी झगड़ा शांत करने की सलाह दी है.

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, “जिस तरह से मेरठ में नसीमुद्दीन सिद्दकी की उपस्थिति में कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए और इससे पहले भी अलीगढ़ और गाजियाबाद में बसपा कार्यकर्ताओं में परस्पर संघर्ष हुआ, वह बसपा की हार की हताशा को दिखा रहा है. जबकि, बसपा अध्यक्ष मायावती अभी भी जातीय चिंतन जारी रखकर इवीएम मशीन पर ही आरोप मढ़ रही हैं.”

उन्होंने कहा, “ये मायावती जी की नकारात्मक राजनीति है. बसपा को वोंट बैंक और बैंक बैलेंस पॉलिटिक्स से बाहर निकलना चाहिए. बेहतर होगा कि मायावती जी अपने कार्यकर्ताओं के साथ संवाद करें और सकारात्मक राजनीति करें. उत्तर प्रदेश की जनता ने इस विधानसभा चुनाव के परिणामों से ये जता दिया है कि जनता अब जाति-महजब के नाम पर बहकावे में नहीं आने वाली है.”

त्रिपाठी ने कहा कि भाजपा विपक्ष का रचनात्मक सहयोग व सुझाव लेकर उत्तर प्रदेश में जवाबदेह और पारदर्शी सरकार चलाना चाहती है, जिसके लिए प्रदेश सरकार बसपा, सपा और कांग्रेस सभी के सकारात्मक सुझावों का स्वागत करेगी.

Load More Related Articles
Load More By आजसमाज ब्यूरो
Load More In राजनीति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बीजेपी