Home खास ख़बर बर्फबारी के चलते ठंड में एक बार फिर इजाफा

बर्फबारी के चलते ठंड में एक बार फिर इजाफा

विकासनगर। मौसम की बदली रंगत के बीच जौनसार बावर की ऊंची चोटियां एक बार फिर बर्फ से लकदक हो गई हैं। ऊंची चोटियों पर मौसम का यह दूसरा हिमपात हैं। चोटियों पर करीब एक फीट मोटी बर्फ की चादर बिछ चुकी है। इसके साथ ही कई गांव भी बर्फ के आगोश में समा गए हैं।
बर्फबारी के चलते ठंड में एक बार फिर इजाफा हो गया है। चकराता छावनी बाजार में दिनभर सन्नाटा पसरा रहा। लोग घरों में दुबके रहे। जगह-जगह लोग अलाव और हीटर तापते नजर आए। चकराता का अधिकतम तापमान 06 और न्यूनतम शून्य डिग्री रिकार्ड किया गया।
बर्फबारी के बीच देववन, मोल्टा, खंडबा, बुधेर, जंगलात चौकी, मुंडाली, लोखंडी, कोटी कनासर समेत कई ऊंची चोटियां बर्फ से आच्छादित हो गई हैं। इससे पहले शनिवार की रात से ही ऊंची चोटियों पर बारिश दौर शुरू हो गया। जो रविवार को दिनभर रूक-रूक जारी रहा। इस बार मौसम की बेरूखी के चलते चकराता को खाली हाथ रहना पड़ा। इस बार जहां जौनसार बावर की ऊंची चोटियों पर भारी बर्फबारी हुई वहीं चकराता छावनी बाजार को महज फुहारों से ही संतोष करना पड़ा जो कुछ ही देर में पिघल गई। उधर, नाथगात को अभी बर्फबारी का इंतजार है। मौसम की बदली रंगत के बीच पछवादून के मैदानी इलाकों में भी बारिश का दौर जारी रहा। ‌बारिश के चलते ठंड में इजाफा हो गया है।
उच्च इलाकों से चलने वाली ठंडी हवाओं ने भी तापमान लुढ़का दिया। विकासनगर का अधिकतम तापमान 18 और न्यूनतम 09 डिग्री रहा। शाम ढलते ही बाजारों में सन्नाटा पसर गया। जगह-जगह लोग ठंड से बचने के लिए अलाव और हीटर तापते नजर आए।
जौनसार बावर की ऊंची चोटियों पर हुई बर्फबारी के बीच देहरादून से कथियान जा रही परिवहन निगम की एक बस धारना धार के पास बर्फ में फंस गई। बस में करीब 12 यात्री सवार थे। जिन्हें बस के फंसने के बाद पैदल ही गंतव्य की ओर रवाना होना पड़ा।
बर्फबारी के बीच त्यूनी-चकराता मोटर मार्ग पर वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया है। लोखंडी के पास सड़क के करीब पांच किमी हिस्से पर बर्फ की सफेद चादर बिछ गई है। जिससे चकराता विकासखंड और त्यूनी तहसील मुख्यालय का संपर्क आपस में कट गया है। जाडी, मशक, कोटी, कनासर, बिनसोन, त्यून, हमराड़, झबराड़, सैंज, कुनैन, सावड़ा, रोहटा, भंदरोली, पानुवा समेत 24 से अधिक गांव में रहने वाले लोगों के लिए दिक्कतें पैदा हो गई हैं। लोगों को चकराता पहुंचने के लिए वाया क्वानू 25 किमी का अतिरिक्त सफर तय करना पड़ रहा है।

Load More Related Articles
Load More By आजसमाज ब्यूरो
Load More In खास ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

महिला कांग्रेस में भी होंगी 5 कार्यकारी अध्यक्ष, हाईकमान ने जारी किया आदेश

भोपाल । विधानसभा चुनावों को देखते हुए कांग्रेस अपने संगठनात्मक ढांचे को चुस्त-दुरुस्त करने…